योगी बताएं 100 साल में थानों में कब जन्माष्टमी नहीं मनी, सड़कों पर कई त्योहार, स‌िर्फ नमाज पर न‌िशाना क्यों

356
SHARE

पूर्व मुख्यमंत्री अख‌िलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, उत्पीड़न की सीमाएं खत्म हो चुकी हैं। पहले आरोप लगता था क‌ि थाने सपा चला रही है। अब थाने कौन चला रहे हैं। सपा के सांसद को एक थाने से दूसरे थाने में रखा जा रहा है। अगर आप मिलने जाएं तो पुलिस नहीं मिलने देगी।

औरैया में जलिा पंचायत अध्यक्ष के उपचुनाव के नामांकन के दौरान हुए उपद्रव से सूबे का स‌ियासी माहौल गरमा गया था। इसके बाद अख‌िलेश ने औरैया जाने की कोश‌िश की तो पुल‌िस ने उन्हें ग‌िरफ्तार कर ल‌िया था। करीब दो घंटे बाद उन्हें छोड़ द‌िया गया था। अख‌िलेश की ग‌िरफ्तारी के बाद जगह-जगह प्रदर्शन भी हुए और सपा स्टूडेंट व‌िंग ने एनेक्सी में ताला लगाने की कोश‌िश भी की थी।

आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अख‌िलेश ने कहा क‌ि मुझे चुनाव के वक्त के सरकार के शब्द याद हैं। उन्हें बहुमत का घमंड था। झांसी और गोरखपुर की मेट्रो की बात कर रहे थे। अब केंद्र सरकार ने ऐसी व्यवस्था कर दी है क‌ि कहीं मेट्रो नहीं बनेगी। अख‌िलेश ने कहा क‌ि सरकार को सीबीआई से बहुत लगाव है। सीबीआई भी उनके अंडर है। गोरखपुर में बच्चों की मौत की सीबीआई या सुप्रीम कोर्ट के स‌िट‌िंग जज से जांच करवाएं।

अख‌िलेश ने सीएम योगी के जन्मअष्टमी वाले बयान का जवाब देते हुए कहा ‌क‌ि थानों में जन्मअष्टमी पहले भी मनाई जाती थी। सपा ने कभी जन्मअष्टमी पर रोक नहीं लगाई। उन्होंने कहा क‌ि योगी बताएं क‌ि 100 साल में थानों में कब जन्माष्टमी नहीं मनी। अख‌िलेश ने ये भी कहा क‌ि सड़कों पर कई त्योहार मनाए जाते हैं तो स‌िर्फ मुस्ल‌िमों की नमाज पर न‌िशाना क्यों।