कार्यकर्ता अनुशासन का पालन करें और नियंत्रण में रहे: योगी आदित्यनाथ

29
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने के बाद उन्होंने विकास कार्य तथा कानून-व्यवस्था की समीक्षा भी की।

आजमगढ़ के नेहरू हाल सभागार में भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों से बैठक में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कार्यकर्ता अनुशासन का पालन करें और नियंत्रण में रहे। हमारी सरकार की प्राथमिकता में कानून-व्यवस्था पर नियंत्रण करना है। ऐसे में जनता की समस्याओं का समाधान कराएं। इसके साथ ही साथ सरकार की योजनाएं जन-जन तक पहुंचाएं। एक घंटे विलंब से आजमगढ़ पहुंचे मुख्यमंत्री ने कार्यक्रमों में की कटौती। कोतवाली व स्कूल निरीक्षण का कार्यक्रम रद किया ।

इस दौरान उन्हें ज्ञापन देने वालों की भीड़ जमा हो गई जिसे रोकने में पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को अनुशासन का पाठ पढ़ाया, नियंत्रण में रहने की हिदायत दी।

नेहरु हाल में कार्यकर्ताओं से मुखातिब मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता में बेहतर कानून व्यवस्था कायम करना है। जनता की समस्याओं का समाधान कराने को उन्होंने कार्यकर्ताओं से सरकार की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए आगे आने का आह्वान किया। इसके साथ ही कहा कार्यकर्ताओं को चाहिए कि वह सभी सरकार व अधिकारियों के बीच सेतु की तरह काम करें। नेहरू हाल में मंच पर सीएम के साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, वन मंत्री दारा सिंह चौहान संग हिंदु युवा वाहिनी प्रदेश अध्यक्ष राकेश राय भी मौजूद थे। करीब आधा घंटे बाद सीएम महिला अस्पताल पहुंचे। यहां आईसीयू में भर्ती नवजात शिशुओं को भी देखा। दूसरे तल पर अस्पताल के आपरेशन कक्ष का निरीक्षण किया। अफसरों को जरूरी हिदायतें दी। एक तरह से प्रशासन के चश्मे से योगी ने अस्पताल की व्यवस्था देखी। यहां दस मिनट के निरीक्षण में सब ठीक मिला। आशा बहु शुभावती ने सीएम का वाहन रोका। विभा राय व मीनू भारती ने उन्हें पत्रक सौंपा।

उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता सरकार व अधिकारी के बीच सेतु का काम करें। इस बैठक के आधा घंटे के बाद वह सीधे महिला अस्पताल पहुँचे। यहां आइसीयू में भर्ती नवजात शिशुओं को देखा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को महिला अस्पताल में कोई गड़बड़ी नहीं मिली। कोतवाली निरीक्षण का कार्यक्रम मुख्यमंत्री ने रद किया। महिला अस्पताल से सीधे सर्किट हाउस रवाना। इसके बाद सीएम सर्किट हाउस में विश्राम करने पहुंचे।