हिलेरी क्लिंटन संबंधी ई-मेल मामले की जांच से कोई नया निष्कर्ष नहीं निकला : FBI

7
SHARE

एफबीआई ने आज कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के कथित ई-मेल घोटाले की जांच बंद करने संबंधी एफबीआई के रुख में पूर्व विदेशमंत्री के एक निकट सहयोगी के लैपटॉप से मिले नए ईमेलों की समीक्षा के बाद कोई बदलाव नहीं आया है.

एफबीआई के निदेशक जेम्स बी कोमे ने अमेरिकी कांग्रेस के नेताओं को एक पत्र में कहा, हमारी समीक्षा के आधार पर हमने हमारे उन निष्कर्षों में कोई बदलाव नहीं किया है, जो हमने हिलेरी के संबंध में जुलाई में व्यक्त किए गए थे.

इससे पहले कोमे ने कांग्रेस को एक पत्र भेजकर कहा था कि एफबीआई ने हिलेरी की निकट सहयोगी हुमा अबेदिन के लैपटॉप से हिलेरी संबंधी जांच से जुड़े कुछ प्रासंगिक ईमेल मिलने के बाद जांच फिर से खोलने का निर्णय लिया है. हुमा के पूर्व पति एंटनी वीनर ने ये ईमेल साझा किए थे.

कोमे ने कहा, मेरे (28 अक्तूबर के) पत्र के बाद से एफबीआई जांच दल एक असंबंधित आपराधिक जांच के संबंध में मिले एक उपकरण से प्राप्त ईमेलों की बड़ी संख्या की समीक्षा के लिए दिन रात काम कर रही है. ऐसा बताया गया था कि लैपटॉप से 6,50,000 ईमेल मिले थे।
कोमे ने कहा, इस प्रक्रिया के दौरान हमने सभी ई-मेल संवादों की समीक्षा की, जो हिलेरी के विदेशमंत्री रहते हुए उन्हें किए गए थे या उन्होंने किए थे. एफबीआई के इस पत्र का हिलेरी की प्रचार मुहिम ने स्वागत किया है. हिलेरी की प्रचार मुहिम की लोकप्रियता के ग्राफ में 28 अक्तूबर के पत्र के बाद से तेजी से गिरावट देखने को मिली है.

हिलेरी के प्रवक्ता ब्रायन फैलोन ने कहा, हमें हमेशा से ही इस बात का विश्वास था कि जुलाई में लिए गए निर्णय को बदलने के लिए कोई तथ्य नहीं मिलेगा. अब निदेशक कोमे ने इस बात की पुष्टि की है. हिलेरी की संवाद निदेशक जेनिफर पालमीएरी ने संवाददाताओं से कहा, हमें यह जानकर खुशी है कि उन्हें इस बात का पता चल गया. उन्होंने जुलाई में लिए गए निर्णय की पुष्टि की है. हमें इस बात का भरोसा था. हमें खुशी है कि यह मामला सुलझ गया है.