लखनऊ में दो सगे भाइयों की हत्या से सनसनी, मुख्य आरोपी पकड़ा गया

105
SHARE

राजधानी लखनऊ में अभी एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की हत्या का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा था कि दो सगे भाइयों की हत्या से सनसनी फैल गई है। लखनऊ के थाना ठाकुरगंज इलाके में पुरानी रंजिश के चलते बदमाशों ने दो सगे भाइयों इमरान और अरमान को पहले लाठी डंडों से पीटा और उसके बाद गोली मारकर हत्या कर दी।

इलाके के लोगों का कहना है कि गोलियों की तड़तड़ाहट वो सकते में आ गए थे। बदमाशों के भाग जाने के बाद पहुंची पुलिस जख्मी भाइयों को अस्पताल ले गई, लेकिन वहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। दो सगे भाइयों की हत्या के इस मामले की जानकारी होने पर एडीजी, आईजी और एसएसपी समेत कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची थी। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस बीच खबर है कि पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी साहित समेत चार लोगों को हिरासत में लिया है और उनके पूछताछ की जा रही है।

लखनऊ के ठाकुरगंज के मल्लाही टोला निवाजगंज के रहने वाले इमरान और अरमान दोनों मृतक भाइयों के बारे में पता चला है कि दोनों ओला कैब चलाते थे। घटना से पहले दोनों भाई गाड़ी में सीएनजी भरवाने जा रहे थे तभी रास्ते में घात लगाकर बैठे अपराधियों ने इन पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया और फिर गोली मार दी।

पीड़ित परिजनों का आरोप है कि दोनों भाइयों की मोहल्ले के ही कुछ लड़कों से कहासुनी हुई थी। उन्होंने कहा कि घटना के बाद 100 नम्बर पर काल की गई लेकिन कॉल नहीं मिली। मृतक के चाचा का कहना है कि हत्या से आधे घंटे पहले तक आरोपी दोनों भाइयों को बुरी तरह पीटते रहे, लेकिन मौके पर पुलिस नहीं पहुंची। उनका कहना था कि पुलिस समय पर पहुंच जाती तो शायद दोनों भाई जिंदा होते।

हत्या की इस वारदात में शामिल बदमाशों की तस्वीरें आसपास के सीसीटीवी फुटेज में आ गई हैं। पुलिस ने मुख्य आरोपी साहिल उर्फ छोटू की गिरफ्तारी सीसीटीवी की मदद से ही की है। साहिल उर्फ छोटू नाम के इस आरोपी का पहले भी आपराधिक इतिहास रहा है और वह पहले भी कई मामलों में जेल जा चुका है पुलिस ने जो सीसीटीवी फुटेज बरामद की है उसमें साहिल हत्या के बाद बड़े आराम से बाइक लेकर भागता हुआ नजर आ रहा है।