मुठभेड़ स्थलों पर पथराव के लिए जाकर ‘खुदकुशी’ कर रहे युवा, गोली नहीं जानती कि वह किसे लगेगी- जम्मू कश्मीर DGP

14
SHARE

जम्मू-कश्मीर पुलिस कहा है कि कश्मीर घाटी में मुठभेड़ स्थलों पर सुरक्षा बलों पर पथराव करने के लिए जाकर युवा आत्महत्या कर रहे हैं और उसने उनसे इस प्रकार की गतिविधियों से दूर रहने की अपील की. पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मुठभेड़ में सुरक्षा बल एवं पुलिस भी खुद को गोलियों से बचाने के लिए बुलेटप्रूफ वाहन या किसी मकान का सहारा लेती है मुठभेड़ स्थलों पर जा कर युवा आत्महत्या कर रहे हैं.’उन्होंने युवाओं से मुठभेड़ स्थलों पर नहीं आने की अपील करते हुए कहा कि घाटी में शांति के विरोधी तत्व अपने लघुकालीन राजनीतिक हितों को साधने के लिए उन्हें गुमराह कर रहे हैं और उनका दुरुपयोग कर रहे हैं.

वैद ने कहा, ‘गोली नहीं जानती कि वह किसे लगेगी. मेरी युवकों से अपील है कि उन्हें अपने घरों में रहना चाहिए और मुठभेड़ स्थलों पर नहीं जाना चाहिए. युवाओं को यह समझना चाहिए कि लोग अपने लघुकालीन राजनीतिक हितों को साधने के लिए उनका इस्तेमाल कर रहे हैं.’

डीजीपी ने कहा कि दुश्मन तत्व युवाओं को भड़काने के लिए सोशल मीडिया का दुरुपयोग कर रहे हैं ताकि वे आतंकवादियों को मुक्त कराने में मदद करने के लिए सुरक्षा बलों पर पथराव करें.