राष्ट्रीय लोकदल ने देवरिया कांड की सीबीआई जांच की मांग उठाई

22
SHARE

राष्ट्रीय लोकदल ने देवरिया जिले के नारी संरक्षण गृह में बच्चियों से हुए घिनौने कृत्य व मानव तस्करी मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. साथ ही इस कांड के लिए प्रदेश की योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने कहा कि नारी संरक्षण गृह में चल रहे देह व्यापार का कृत्य पूरे समाज को शर्मसार करने वाला है. उन्होंने कहा कि नारी संरक्षण गृह संचालिका और संस्था के सभी सदस्यों को भी हिरासत में लेना चाहिए. वहां पर कराए जा रहे देह व्यापार व उसके रैकेट के तार कहां से जुड़े हुए हैं, इसका भी खुलासा जल्द किया जाए और दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए.

दुबे ने इस कृत्य का जिम्मेदार योगी सरकार को ठहराते हुए कहा कि यदि सरकार बिहार के मुजफ्फरपुर कांड से सबक लेती तो शायद ऐसी घटनाएं न घटित होतीं और लड़कियों को देह व्यापार के लिए कोई संस्थान विवश न करता. उन्होंने कहा कि सरकार ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ का नारा तो देती है लेकिन यह घटना बताती है कि धरातल पर कुछ और ही हो रहा है. इसे रोकने के लिए सरकार को ठोस कदम उठाने चाहिए.

उन्होंने कहा कि प्रदेश भर में एनजीओ द्वारा संचालित ऐसे संस्थानों की कड़ी निगरानी के साथ तत्काल जांच की जरूरत है. हो सकता है देवरिया की तरह अन्य जनपदों में समाजसेवा की आड़ में इस तरह के घिनौने कृत्य किए जा रहे हों.

दुबे ने कहा कि देह व्यापार के साथ-साथ मानव तस्करों से इसके तार जुड़े होने की भी संभावना है, इसलिए इसकी जांच सीबीआई या किसी अन्य विशेष जांच एजेंसी से कराई जानी चाहिए, तभी नारियों के सम्मान की रक्षा हो सकेगी.