फीरोजाबाद के व्यापारी संजीव गुप्ता को छोड़ने के लिए सौ करोड़ की मांग

121
SHARE

आज फीरोजाबाद के व्यापारी संजीव गुप्ता के अपहरण के दूसरे दिन अपहरणकर्ताओं ने सौ करोड़ रुपए की मांग की है। यह संदेश उनके परिवार के लोगों को संजीव गुप्ता के मोबाइल फोन से व्हाट्सएप मैसेज के रूप में भेजा गया है। उधर कल रात संजीव गुप्ता की गाड़ी पंचर बनाने वाली की दुकान पर मिली है।

संजीव गुप्ता के अपहरण के बाद अब उनके मोबाइल फोन से भेजे गए एक मैसेज ने उनके घर के लोगों को बेहद परेशान कर दिया है। संजीव गुप्ता को छोडऩे के एवज में सौ करोड़ रुपए की मांग रखी गई है। आज इस व्हाट्सएप मैसेज के बाद परिवार के लोग बेहद परेशान है। अपहर्ताओं ने उद्योगपति संजीव गुप्ता के मोबाइल से उनकी पत्नी सारिका गुप्ता के मोबाइल पर दो व्हाट्सएप मैसेज भेजकर 100 करोड़ की फिरौती मांगी है।

इस मामले की जांच लोकल पुलिस के साथ उत्तर प्रदेश एसटीएफ कर रही है। वहीं अपहर्ताओं की तलाश में एसटीएफ की टीम ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। किसी के हाथ अभी तक कुछ नहीं लगा है। अपहरणकर्ता इतने शातिर है कि वह हर काम के लिए संजीव गुप्ता के मोबाइल फोन का ही इस्तेमाल कर रहे हैं। इस फोन से घर के हर सदस्य को मैसेज भेजा गया। ब्रॉडकास्ट के जरिये सभी को सन्देश भेजा जा रहा है। संदेश में कहा गया है कि सौ करोड़ की व्यवस्था करो नहीं तो संजीव को मार देंगे।

पुलिस को संजीव गुप्ता की लोकेशन चंडीगढ़ मिली है। फोन लोकेशन कल दिल्ली तथा आज चंडीगढ़ बता रही है। बेहद शातिर किडनैपर्स गुप्ता को लेकर लगातार जगह बदल रहे हैं। किडनैप करने वालों ने कहा फोन और संजीव उनकी गिरफ्त में है। दो महीने पहले भी संजीव का अपहरण हुआ था।

फिरोजाबाद के थाना टूंडला इलाके से 23 जुलाई को युवा उद्योगपति और सागर रत्ना होटल के पार्टनर संजीव गुप्ता के अचानक गायब हो जाने से खलबली मच गई। परिवार के लोगों ने बताया कि संजीव ने शाम छह बजे अपनी पत्नी को फोन पर होटल सागर रत्ना से घर आने के बात कर रहे थे। वहीं होटल सागर रत्ना और संजीव के घर की दूरी करीब 32 किमी है। इसके बात संजीव का फोन स्विच ऑफ हो गया। तभी से संजीव अपनी कार समेत गायब है।

फिरोजाबाद के प्रमुख चूड़ी व्यापारी संजीव गुप्ता के अपहरण में प्रयुक्त हुंडई सेंटा एफई कार, यूपी 83 एसी-4100, पुलिस को बीती रात्रि गभाना में सोमना मोड़ के पास टायर पंचर की दुकान पर खड़ी मिली। इस कार मिलने की सूचना पर टूंडला पुलिस व एसओजी प्रभारी शीलेन्द्र सिंह पहुंचे। यह लोग कार को अपने साथ ले गए।