आगरा में बहन को आने में हुई देरी, भाई ने फांसी लगाई, मौत

89
SHARE

रक्षाबंधन के दिन आगरा में राखी बांधने के लिए बहन के आने का इंतजार कर रहा भाई ने मौत को गले लगा लिया। छोटे भाई पंकज की भी दो साल पहले बीमारी से मौत हो चुकी है।

आगरा में रामबाग निवासी 28 वर्षीय सोनू दहतोरा में ओमप्रकाश के मकान में किराएदार था। वह जूता फैक्ट्री में श्रमिक था। दो महीने पहले शराब पीने को लेकर कमला नगर निवासी बहन भावना ने टोक दिया था। इस पर भाई-बहन में विवाद हो गया था, तभी से दोनों में बातचीत बंद थी। इससे सोनू तनाव में था।

सोमवार सुबह उसने बराबर में रहने वाली मौसेरी बहन बेबी से पूछा, तो उसने बताया कि भावना कुछ देर में राखी बांधने आएगी। सोनू इंतजार करता रहा। कई बार बहन को फोन भी मिलाया। दोपहर 12 बजे बेबी उसके कमरे पर पहुंची, तो पंखे के हुक से सोनू शव लटक रहा था और उसकी मौत हो चुकी थी।

भावना, भाई की मौत की खबर मिलते ही बेहोश हो गई। होश आने पर भावना ने बताया उसके पति छत से गिरकर घायल हो गए, मोबाइल भी टूट गया। इसके चलते उसकी भाई से बातचीत नहीं हो पा रही थी।