राष्ट्रगान बजाने का फैसला,अदालतों पर लागू नहीं: सुप्रीम कोर्ट

8
SHARE

कोर्ट ने साफ किया राष्ट्रगान बजाने के लिए सुप्रीम कोर्ट भी बाध्य नहीं है। सिनेमाघरों में फिल्म शुरू करने से पहले राष्ट्रगान बजाए जाने के सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद देश भर से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। कुछ लोग इस फैसले का स्वागत कर रहे हैं तो कुछ लोगों को कोर्ट का यह फैसला नागवार गुजर रहा है। कुछ जानकारों को यह कोर्ट का थोपा हुआ फैसला लग रहा है। कुल मिलाकर तमाम लोग राष्ट्रगान को लेकर अपना अपना तर्क दे रहे हैं। इसी क्रम में कोर्ट ने एक दलील के जवाब में साफ किया कि सिनेमाघरों की तरह राष्ट्रगान बजाए जाने का फैसला देश की अदालतों और बार काउंसिलों पर लागू नहीं होता है|

अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि यह फैसला तब तक देश की अदालतों और बार काउंसिलों पर लागू नहीं होता जब तक की इस संबंध में उपर्युक्त याचिका नहीं आती और उस पर फैसला नहीं सुनाया जाता|