दम हो तो कराएं लोकसभा चुनाव : मायावती

29
SHARE

बसपा मुखिया मायावती ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथों लिया है। मायावती ने संसद में पत्रकारों से बात करते हुए कहा की यदि प्रधानमंत्री अपने नोटबंदी के निर्णय का परिणाम जानना चाहते हैं तो देश में चुनाव करा कर देख लें।नोटबंदी को लेकर राजनीतिक रार बढ़ती ही जा रही है। विपक्ष के नेता हर रोज सरकार पर वार कर रहे हैं|

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पलटवार करते हुए कहा है कि मायावती को इसका नतीजा उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में मिल जाएगा। उन्हें खुद ही अपनी पार्टी के बारे में पता चल जाएगा। मायावती का यह बयान पीएमओ के उस सर्वे के बाद आया है, जिसमें कहा गया था कि ‘नमो एप’ पर नोटबंदी के सर्वे में 5 लाख लोगों ने भाग लिया था। इस सर्वे में 93 प्रतिशत लोगों ने प्रधानमंत्री के नोटबंदी के कदम का स्वागत किया है|

मायावती ने सर्वे को फर्जी बताते हुए कहा की यदि सही सर्वे करना है तो देश में नए सिरे से चुनाव करवाकर देख लें, मायावती ने राज्यसभा अध्यक्ष से अनुरोध किया कि वो सुनिश्चित करें कि राज्यसभा में लंच के बाद की कार्यवाही में प्रधानमंत्री सदन में मौजूद रहें। बुधवार को भी मायावती ने कहा था कि जब पीएम ने इतना अच्छा काम किया है, तो वह संसद आने से क्यों घबरा रहे हैं। उन्होंने ये भी कहा कि मैं राष्ट्रपति से गुजारिश करती हूं कि प्रधानमंत्री को तलब करें और नोटबंदी के बाद जनता को हुई परेशानी का समाधान निकालें|