बलिया में सांप्रदायिक तनाव के बाद चौकी इंचार्ज निलंबित, 22 लोग गिरफ्तार

100
SHARE

बुधवार को बलिया जिले के गड़वार थाना क्षेत्र के रतसर गांव के बाजार में मंगलवार रात में हुई मारपीट में एक समुदाय के युवक की मौत की अफवाह फैल जाने से आग फिर से सुलग उठी।

अराजकतत्वों ने दर्जनभर दुकानों में तोड़फोड़ कर दो दुकानों में आगजनी और लूटपाट की। मामले में लापरवाही बरतने पर रतसर चौकी इंचार्ज सुरेंद्र कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया है। वहीं पुलिस ने दोनों पक्षों से 22 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

मंगलवार की शाम रतसर गांव के पूरबी राजभर बस्ती निवासी एक युवक अपनी मां को साइकल से लेकर घर लौट रहा था। बाजार में पंचायत भवन के समीप बाइक से साइकिल की टक्कर लग गई। इस पर दोनो में विवाद हो गया। बाइक सवार और उसके साथियों ने साइकिल सवार युवक की जमकर पिटाई कर दी।

सूचना मिलने पर साइकिल सवार के घरवाले और ग्राम प्रधान के प्रतिनिधि मुक्तानंद सिंह मौके पर पहुंचे। युवक को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रतसर ले गए, जहां चिकित्सक के न रहने पर उसे जिला चिकित्सालय लाया गया। उधर, घटना के बाद घायल के घरवाले रात में ही तहरीर लेकर रतसर चौकी पर पहुंचे लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

बुधवार को सुबह करीब दस बजे घायल युवक के परिजन गड़वार थाने पहुंचे जहां उनकी सुनवाई नहीं हुई। इससे खफा होकर उन लोगों ने रतसर गांधी चौराहा के पास सड़क जाम कर दिया। इसी दौरान किसी ने घायल युवक की मौत होने की अफवाह फैला दी।

इतना सुनते ही लोग आक्रोशित हो गए और बाजार में उपद्रव शुरू हो गया। दोनों ओर से ईंट पत्थर चलने लगे। उपद्रवियों ने करीब दर्जनभर दुकानों में तोड़फोड़ और दो दुकानों में आगजनी कर लूटपाट भी की।

घटना की सूचना मिलने पर डीएम सुरेंद्र विक्रम और पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। स्थिति को काबू में किया। देर शाम तक डीएम, एसपी, एएसपी विजयपाल सिंह समेत पूरा पुलिस एवं प्रशासनिक अमला कस्बे में ही डटा रहा है।

गांव में एहतियात के तौर पर पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है। प्रशासन ने राजनीतिक दलों के लोगों के कस्बे में प्रवेश पर रोक लगा दी है। सोशल मीडिया से लगातार हर तरह की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

घायल युवक के पिता की तहरीर पर गड़वार पुलिस ने आरोपी रानू पुत्र जफरूल हसन व एहतेशाम के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने बताया कि रतसर गांव में हुए बवाल मामले में 20 नामजद और सौ अज्ञात के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर 22 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि दोषियों पर एनएसए व गैंगेस्टर की कार्रवाई भी की जाएगी।