मुजफ्फरनगर में पानी की छींटें पड़ने पर सांप्रदायिक टकराव, बेटे की मौत, पिता गंभीर, आधा दर्जन हिरासत में

755
SHARE

मुजफ्फरनगर में कपड़े पर पानी की छींटें पड़ने को लेकर उपजे विवाद ने सोमवार देर शाम नई मंडी थाना क्षेत्र के गांव नसीरपुर में सांप्रदायिक टकराव का रूप ले लिया। दोनों संप्रदाय के लोग हथियारों से लैस होकर आमने-सामने आ गया। इस बीच पथराव और फायरिंग की गई, जिसमें गोली लगने से पिता-पुत्र घायल हो गए। गंभीर हालत में बेटे को मेरठ रेफर कर दिया गया, लेकिन उसकी मौत हो गई। गांव में तनाव है। बड़ी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है।

सोमवार दोपहर नसीरपुर गांव में युवक नमाज पढ़ने जा रहा था। वह गांव के ब्रजपाल के घर के पास पहुंचा, तभी पाइप से निकल रहे पानी की कुछ छींटे उसके कपड़ों पर आ गईं। इस पर युवक नाराज हो गया और उसने विरोध किया। इसी को लेकर ब्रजपाल और इकबाल पक्ष के इस युवक के बीच नोकझोंक होने लगी। तनाव को देखते हुए इसी मसले पर गांव में दोनों पक्षों की पंचायत हुई और मामला निपटा दिया गया, लेकिन देर शाम अचानक इकबाल और ब्रजपाल पक्ष के लोग फिर आमने-सामने आ गए। दोनों ओर से मारपीट शुरू हो गई।

इसके बाद पथराव हुआ और फायरिंग की जाने लगी। दोनों ओर के दर्जनों लोग घायल हो गए। फायरिंग में ब्रजपाल और उसके बेटे आकाश को गोली लग गई। गोली आकाश के सिर में लगी और उसे गंभीर हालत में मेरठ रेफर कर दिया गया। बाद में आकाश की मौत हो गई। ब्रजपाल की भी हालत नाजुक बताई गई है। उधर, सूचना पर एसएसपी अनंत देव तिवारी फोर्स लेकर गांव पहुंचे। आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया। गांव में तनाव व्याप्त है। कप्तान ने आकाश के मरने की पुष्टि की है।