मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एडवांस एम्बुलेंस सर्विस का उद्घाटन करेंगे 

31
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ आज एडवांस लाइफ सपोर्ट (एएलएस) एम्बुलेंस सेवा का शुभारंभ करेंगे। गंभीर मरीजों के लिए यह सेवा नि:शुल्क और जीवन रक्षक सुविधाओं से लैस होगी। गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच कालिदास स्थिति सीएम आवास से शाम चार बजे एम्बुलेंस सेवा को हरी झंडी दिखाएंगे। इस सेवा के जरिए गंभीर मरीजों को समय पर अस्पताल पहुंचाया जा सकेगा।

एएलएस एम्बुलेंस सेवा उत्तर प्रदेश के सभी जिलों को मिलेगी। डायल 108 के तहत 150 एएलएस एम्बुलेंस चलाई जाएंगी, यानी हर जिले को दो-दो एएलएस एम्बुलेंस मिलेंगी। इस एम्बुलेंस सेवा का लाभ गंभीर मरीजों जैसे- दिल का दौरा पड़े मरीजों को, सांस की परेशानी से पीड़ित मरीजों को, सिर में चोट लगे मरीजों को, आग में झुलसे मरीजों को, नवजात, प्रसव के गंभीर मामलों में मिलेगा। अधिकारियों का कहना है कि इस एम्बुलेंस की मदद से सड़क दुर्घटना व दूसरे स्थानों से भी मरीजों को आपात स्थिति में अस्पताल पहुंचाया जाएगा।
अधिकारियों ने बताया कि सरकारी अस्पताल में भर्ती गंभीर मरीजों को इस सुविधा का लाभ मिलेगा, लेकिन इसके लिए अस्पताल के डॉक्टर का रेफरल जरूरी होगा। एएलएस एम्बुलेंस में वेंटिलेटर, ऑक्सीजन, ऑटोमेटेड डिफेबरीलेटर, मल्टी पैरा मॉनीटर, फिटल डॉप्लर, इमरजेंसी दवाएं व पैरा मेडिकल स्टाफ होंगे। इस सेवा को डायल 108 की मदद से बुलाया जा सकेगा। गौरतलब है कि 108 के तहत उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 1488 एम्बुलेंस चल रही हैं।
दिल्ली एम्स या चंडीगढ़ पीजीआई भी ले जा सकेंगे मरीज
एलएलएस एम्बुलेंस सेवा के द्वारा गंभीर मरीजों को यूपी के बड़े अस्पतालों में ही नहीं, बल्कि दिल्ली एम्स व पीजीआई चंडीगढ़ भी ले जाया जा सकेगा। यह सुविधा यूपी के उन मरीजों को मिलेगी जिनका निवास या भर्ती अस्पताल की दूरी दोनों संस्थानों से 200 किमी के भीतर होगी। इस सेवा का लाभ मरीजों को मुफ्त मिलेगा।
एक फोन पर फ्री हेल्थ टिप्स
एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस सेवा के अलावा यूपी सरकार 104 हेल्थ हेल्प लाइन सेवा भी शुरू करने जा रही है। इसकी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। मुख्यमंत्री के उद्घाटन करते 104 नंबर डायल करते ही आप मुफ्त में स्वास्थ्य सलाह ले सकेंगे।

प्रदेश का कोई भी व्यक्ति कहीं से भी 104 हेल्प लाइन में कॉल कर मुफ्त में चिकित्सकीय परामर्श ले सकेगा। इस सेवा के लिए लखनऊ के आशियाना में कॉल सेंटर भी तैयार कराया गया है। इस सेवा में लोगों को चिकित्सकीय सलाह देने के लिए डॉक्टर से लेकर वरिष्ठ स्वास्थ्य सलाहकार बैठेंगे।