सपना अखिलेश यादव का पूरा करेंगे योगी आदित्यनाथ

24
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के प्रोजेक्ट की शुरुआत करेगे, इटावा सफारी का उद्घाटन अब योगी के हाथो होगा| वन विभाग के अधिकारी बस उद्घाटन के इंतजार में है, काम खत्म हो चूका है। वन विभाग के फिशर वन क्षेत्र में 350 हेक्टेयर में तैयार किए गए इस प्रोजेक्ट में अब तक करीब 200 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं।

अक्टूबर 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डियर सफारी का उद्घाटन किया था। उस समय विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने से पहले ही इटावा सफारी पार्क का उद्घाटन करने के लिए तेजी से कार्य किया गया। बावजूद इसके इटावा सफारी का उद्घाटन नहीं हो सका। अब जब प्रदेश में सरकार बदल गई है तो नए निजाम से इटावा सफारी को हरी झंडी मिलने का इंतजार है।

इटावा सफारी पार्क का मुख्य आकर्षण उसका मुख्य द्वार है। यह द्वार फ्रांस के विशेषज्ञ फ्रेंक विडाल की परिकल्पना के आधार पर बनाया गया है। मुख्य दरवाजे से घुसते ही पार्किंग, सेना के टैंक व रेल का इंजन पर्यटकों का स्वागत करेगा। यहां से आगे बढ़ने पर सफारी का शेर प्वाइंट बनाया गया है जहां स्कूली बच्चे सेल्फी व फोटो खींच सकेंगे। यही नहीं प्राकृतिक वातावरण में बनाया गया झरना व पुल भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र होंगे।

सफारी प्रशासन ने एक सेंट्रल हॉल का निर्माण कराया है, जिसमें अत्याधुनिक रेस्टोरेंट होगा। इसके लिए मेकडोनॉल्ड, केएफसी जैसी फूड चेन की कंपनियों ने आवेदन कर रखे हैं। उसके बगल में ही लोगों को खाने के साथ ही तेंदुआ सफारी देखने का अवसर मिलेगा। सेंट्रल हॉल में फोर-डी थियेटर, सेविनयर शॉप, केफेटेरिया भी होगी। शुरुआत में करीब एक दर्जन बसें सफारी प्रशासन पर्यटकों के लिए चलाएगा।