अखिलेश के ‘घर’ में बीजेपी नेताओं को जीत का मंत्र बताएंगे सीएम योगी, आज इटावा दौरे पर

50
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज इटावा दौरे पर रहेंगे। अखिलेश यादव के गृह जिले में सीएम योगी आदित्यनाथ करीब 7 घंटे तक रुकेंगे, इस दौरान उनके तमाम कार्यक्रम हैं जिनमें कई पार्टी से जुड़े हुए भी हैं, इससे माना जा रहा है कि वो इटावा से ही 2019 के चुनावी संग्राम का बिगुल भी फूंकेंगे। उनका सुबह 9:45 बजे इटावा पहुंचने का कार्यक्रम है। इटावा में पुलिस लाइन स्थित हेलीपैड पर उनका हेलीकॉप्टर उतरेगा और दिन भर तमाम कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद वो शाम को लगभग साढ़े पांच बजे वापस लखनऊ रवाना होंगे।

बतौर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ये पहला इटावा दौरा होगा। उनके दौरे को देखते हुए जिले के अधिकारियों ने रात-दिन मेहनत करके शहर को साफ-सुथरा दिखाने की कवायद की है। अधिकारियों ने कई चौराहों पर संगमरमर के पत्थर लगवाए हैं तो जगह-जगह कूड़ेदान भी रखवाए हैं जो आम दिनों में नहीं दिखाई देते।

मुख्यमंत्री का कार्यक्रम जिस पंडाल में होना है, उस पंडाल को दुल्हन की तरह सजा दिया गया है। सरकारी इमारतों की रंगाई-पुताई भी करवा दी गई है और सड़कों में बने गड्ढों को पैचिंग के जरिए छिपाने की कोशिश की गई है

समझा जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी इटावा से ही 2019 के लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकेंगे, सीएम, राजा सुमेर सिंह वीवीआईपी गेस्ट हाउस में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे और उनसे सीधे फीडबैक लेंगे। इसके बाद कानपुर और बुंदेलखंड मंडल के सांसदों और विधायकों के साथ भी बैठक करेंगे। कानपुर-बुंदेलखंड के 47 विधायकों और 9 सांसदों को इस बैठक के लिए बुलाया गया है।

इटावा राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव का गृह जिला है और कहीं ना कहीं ऐसा संदेश भी गया ही है कि बीजेपी के 15 महीनों के शासन में इस क्षेत्र की योजनाओं पर ध्यान नहीं गया है, यहां की कई परियोजनाएं और लॉयन सफारी पार्क उद्घाटन का इंतजार कर रहे हैं।

सीएम योगी आ रहे हैं तो यहां पर वो तमाम विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे और लोगों को अपनेपन का एहसास कराने की कोशिश करेंगे। वह विभिन्न योजनाओं के 1000 लाभार्थियों को लाभ देने के बाद एक जनसभा को भी सम्बोधित करेंगे।