भारी हंगामें के बाद दोनों सदन कल 11 बजे तक स्थगित, सभी सपा नेता लाल टोपी पहन हाथों में सीटी लेकर आये

31
SHARE

आज उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के पहले सत्र के पहला दिन काफी हंगामा हुआ। समाजवादी पार्टी के साथ ही बसपा व कांग्रेस के विधायकों के प्रदेश में खराब कानून-व्यवस्था को लेकर हंगामा किया। जिसके कारण राज्यपाल के संबोधन के बाद आज दोनों सदन को कल दिन में 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया।

विधान परिषद में भी विपक्ष ने काफी हंगामा किया। इस दौरान वेल में नारेबाजी भी की गई। जिसके कारण सदन की आगे की कार्यवाही कल तक 11 बजे तक स्थगित कर दी गई है।

लखनऊ में आज विधानसभा की कार्यवाही शुरु होते ही हंगामा होने लगा। इस हंगामा के दौरान राज्यपाल राम नाईक के ऊपर विपक्ष ने कागज के टुकड़े फेंके। ।

आज यूपी विधानसभा की कार्यवाही हंगामे के साथ शुरू हुई और थोड़ी देर बाद कार्यवाही स्थगित हो गई। राज्यपाल राम नाईक के अभिभाषण शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। राज्यपाल पर विपक्ष ने कागज के टुकड़े फेंके और सीटियां बजाईं ताकि उनके एक भी शब्द सुनाई नहीं दिए जा सके। लेकिन राज्यपाल ने हंगामे के बीच अपना भाषण जारी रखा और पूरा किया। उनके सुरक्षा कर्मियों ने उनका बचाव किया। इस बीच विपक्ष ने प्लेकार्ड भी दिखाए और नारेबाजी की।

सभी सपा नेता लाल टोपी पहनकर आए हैं और हाथों में सीटी भी है। कानून व्यवस्था को लेकर विपक्ष लामबंद है। आपको बता दें कि यूपी में भाजपा की सरकार आने के बाद ये पहली बार सत्र शुरू हुआ है। ये सत्र 22 मई तक चलेगा।

विपक्ष के हंगामे पर यूपी कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि हम आशा करते हैं कि विपक्ष अपनी सकारात्मक भूमिका निभाएगा। सिद्धार्थ नाथ ने कहा कि कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर विपक्ष को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए।