मोदी की रैली के लिए तैयार बीजेपी, भगवा के सहारे यूपी फतह की तैयारी

11
SHARE

केंद्र की सत्ता में पूर्ण बहुमत के साथ अपना कब्जा जता रही बीजेपी एक बार फिर भगवा चोले के रंग से सरोबार नजर आ रही है। अयोध्या की रामजन्म भूमि पर मंदिर निर्माण के मुद्दे पर एक तरफा हुई वोटों की बारिश से पूर्ण बहुमत का राजसुख भोगने वाली बीजेपी, अपने वादे पर खरा न उतर पाने के चलते यूपी के चुनावी धरातल पर अन्य पार्टियों के आगे काफी समय तक बौनी साबित हुई। बीजेपी का दारोमदार अपने कंधे पर संभालते हुए नरेंद्र मोदी ने बीते लोकसभा चुनाव के रण क्षेत्र में राममन्दिर मुद्दे के साथ ही भगवा रंग से काफी हद तक किनारा कस लिया। यही नहीं बीजेपी का डंका बजाने के लिए पार्टी के चुनाव चिन्ह कमल का भी रंग गुलाबी से बदल कर सफ़ेद कर डाला। जिसका असर ये रहा कि नरेंद्र मोदी की सोच ने धरातल पर जमींदोज पड़ी पार्टी में संजीवनी का मन्त्र फूंक दिया और बीते लोकसभा चुनाव में बीजेपी का परचम इस कदर लहराया कि तमाम विरोधी पार्टियों को मुंह की खानी पड़ी।

 सारे मुद्दे के आगे सिर्फ मोदी लहर ने इस कदर जनता के दिलों पर जादू चलाया कि केंद्र की सत्ता में प्रधानमंत्री की कुर्सी पर जनता ने अपने वोटों की ताकत से नरेंद्र मोदी को बैठाने का काम कर दिखाया। अब एक बार फिर नरेंद्र मोदी बहराइच की उसी जमीन से मिशन 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की सरकार बनाने के लिए आम जन से अपील करने आ रहे हैं। यहीं से उन्होंने बीते लोकसभा चुनाव में शंखनाद रैली का आगाज कर जीत दर्ज की थी। मोदी उसी पावन माटी से एक बार फिर यूपी के चुनाव की बिसात पर बीजेपी का सिक्का ज़माने के लिए हुंकार भरने आगामी 11 दिसम्बर को विस्वरिया इलाके में आ रहे हैं। जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की होने वाली परिवर्तन रैली स्थल पर दर्शकों के लिए बनायी गई विशाल दीर्घा पूरी तरह भगवा रंग से रंगी नजर आ रही है। जो साफ बता रही है कि बीजेपी पर भगवा रंग एक बार फिर हावी हो रहा है। शायद इसीलिए मोदी की जनसभा स्थल पर पहली कतार की दीर्घा में भगवा रंग की विशाल दीर्घा सजाई गयी है।