ओमप्रकाश राजभर के इस्तीफे वाले बयान पर भाजपा का पलटवार

359
SHARE

यूपी में सत्तारूढ़ भाजपा और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के बीच घमासान जारी है। सुभासपा के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने सोमवार को कहा था कि वह मंत्री पद से अपना इस्तीफा दे चुके हैं और भाजपा इसे स्वीकार नहीं कर रही। भाजपा की तरफ से अब इसका जवाब आया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पिछले दो सालों में उन्हें राजभर का इस्तीफा कभी मिला ही नहीं। योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री और सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने भी बेहद तीखे शब्दों में ओम प्रकाश राजभर पर पलटवार किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक टीवी इंटरव्यू में राजभर के इस्तीफे को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि पिछले दो सालों में राजभर ने कई बार इस्तीफे की बात कही लेकिन उन्हें कभी भी राजभर का इस्तीफा नहीं मिला और इस बार भी नहीं मिला। उधर मंगलवार को प्रयागराज में भाजपा उम्मीदवार रीता बहुगुणा जोशी के लिये प्रचार करने पहुंचे सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि ओमप्रकाश राजभर नौटंकी कर रहे हैं, उन्होंने कोई इस्तीफा नहीं दिया है। अगर वह इस्तीफा देना चाहते हैं तो अपना इस्तीफा सीधे राज्यपाल को सौंपे, इस तरह नौटंकी बंद करें।

बताते चलें कि सोमवार को यूपी के बलिया में चुनाव प्रचार के दौरान मीडिया से बात करते हुये योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा था कि उन्होंने प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल से 13 अप्रैल को ही इस्तीफा दे दिया है, लेकिन भाजपा इसे स्वीकार नहीं कर रही और भाजपा से अब उनका कोई लेना देना नहीं।

राजभर ने कहा था कि भाजपा चुनाव के दौरान इस्तीफा मंजूर नहीं कर रही है क्योंकि वह उन्हें साथ दिखा कर राजभर वोटों का फायदा लेना चाहती है, हालांकि अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह की तीखी टिपप्णी से संभावना लग रही है कि ओम प्रकाश राजभर की चुनाव परिणाम के बाद मंत्रिमंडल से छुट्टी तय है।