कांग्रेसी अभेद दुर्ग को भेद गदगद भाजपाई निकाय चुनाव में कांग्रेस को सबक सीखाने लिए अभी से जुटे

20
SHARE

अमेठी. यूपी में आने वाले कुछ समय में निकाय चुनाव होना है, पर कब आयोग की ओर से इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। लेकिन यहां गुज़रे विधानसभा चुनाव में कांग्रेसी अभेद दुर्ग को भेद 3 सीटें जीतकर भाजपाई इस तरह गदगद हैं कि निकाय चुनाव में कांग्रेस को सबक सीखाने के लिए उन्होंने अभी से कमर कसना शुरु कर दिया है। इस क्रम में अमेठी के विधानसभा कार्यालय पर मीटिंग कर रूप रेखा तैयार की जा रही है।

इस बीजेपी नेता के नेतृत्व में तैयार हो रहा खाका
जानकारी के अनुसार अमेठी नगर के विधानसभा कार्यालय पर स्थानीय निकाय चुनाव के सन्दर्भ में कार्यकर्ताओं के साथ एक बैठक सम्पन्न हुई।
इस बैठक में प्रतापगढ़ के बीजेपी नेता से गिरधारी सिंह ने हिस्सा लिया।
बता दें कि श्री सिंह को बीजेपी नेतृत्व ने क्षेत्रीय समन्वयक नियुक्त कर रखा है, और इस अधिकार से उन्होंने बीजेपी वर्कर्स को उचित निर्देश दिये।

इन सबको मिली महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारिया
आयोजित बैठक में बीजेपी नेता भपेंद्र मिश्र ने जिला प्रभारी की हैसियत से अपना संबोधन दिया।
इस दौरान उन्होंने चुनाव सञ्चालन समिति अमेठी निकाय की घोषणा की गई।
जिसका प्रभारी रवीन्द्र सिंह को बताया गया।
वहीं अधिवक्ता गिरिजा शंकर शुक्ला, स्वामीनाथ पाल,चिरौंजी लाल मोदनवाल तथा विजय कोरी को चुनाव सञ्चालन समिति का सदस्य बनाया गया।
उधर प्रभारी की महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए रवीन्द्र सिंह ने चुनाव आयोग द्वारा जारी निर्देशों का विवेचन करते हुए कार्यकर्ताओं को अपना सारगर्भित संबोधन प्रदान दिया।

कांग्रेस को उखाड़ फेंकने की कही गई बात
इस क्रम में मंच पर एक ओर विधायक प्रतिनिधि अनंत विक्रम सिंह मौजूद रहे तो दूसरी और पूर्व विधायक पंडित जमुना प्रसाद मिश्र।
दोनों ही जल्द ही होने वाले निकाय चुनाव में सभी सीटें जीत अमेठी से कांग्रेस को उखाड़ फेंकने की बात कही।

बीजेपी के ये नेता भी रहे शामिल
निकाय चुनाव से सम्बंधित इस पहली बैठक में वरिष्ठ अधिवक्ता ओमप्रकाश मिश्र, सदाशिव पांडेय, बीजेपी मीडिया प्रभारी देवप्रकाश पांडेय के साथ नगर सेठ अनूप अग्रवाल, अरविन्द सिंह कल्लू, फूलचन्द्र कसौधन, धर्मेंद्रपाण्डेय,ओमप्रकाश कसौधन, अमेठी मंडल अध्यक्ष त्रियुगी नारायण शुक्ल,व महामंत्री लल्लन मौर्या,रवि प्रताप सिंह,संतोष श्रीवास्तव सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।