बीजेपी नेता पर लगा नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म का आरोप, पीड़िता हुई गर्भवती

65
SHARE

चरखारी नगर के बीजेपी नगर उपाध्यक्ष ने नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया है। छात्रा तीन माह की गर्भवती भी है। पीड़िता न्याय के लिए कई दिनों से पुलिस चौकी के चक्कर लगा रही थी, लेकिन न्याय मिलता न देख पीड़िता ने एसपी से गुहार लगाई। आखिरकार एसपी के आदेश के बाद आरोपी बीजेपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है वहीं पुलिस को इस घटनाक्रम से किसी बड़े सेक्स रैकेट की भी जानकारी मिली है। इस मामले में एक महिला को भी हिरासत में लिया गया है।

स्कूल में एडमिशन के नाम पर फंसाया छात्रा को-

प्रदेश की सरकार महिला उत्पीड़न रोकने के भले ही लाख दावे कर रही हो मगर सत्ता के मद में मदहोश बीजेपी कार्यकर्ता अपने ही आला कमान के फरमान की धज्जियां उड़ा रहे हैं। महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों में कमी होती नजर नहीं आ रही है। उस पर बीजेपी के कार्यकर्ता भी महिलाओं की अस्मत से खेल रहे हैं। मामला महोबा जनपद के कसबा चरखारी का है। चरखारी नगर के बीजेपी उपाध्यक्ष हेमुराजा बुंदेला पर छात्रा के साथ दुष्कर्म करने का गंभीर आरोप लगा है। दरअसल कोतवाली चरखारी क्षेत्र के ग्राम निकटवर्ती गांव में रहने वाली नाबालिग छात्रा कक्षा 8 में पिछले वर्ष पढ़ती थी, मगर परीक्षा न देने के कारण वह फेल हो गई। इसी का फायदा उठा कर नाबालिग छात्रा की सहपाठी की मां रीता ने उसका एडमिशन महोबा शहर में कराने की बात कहकर अपने साथ ले गई और एक होटल में ले जाकर बंद कर दिया। होटल में बीजेपी चरखारी नगर उपाध्यक्ष हेमूराजा बुंदेला पहुँच गया और लड़की को बंधक बनाकर कई बार दुष्कर्म किया। दबंग भाजपा नेता ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी दी और किसी को भी ये बात बताने के लिए धमकाया, लेकिन जब पीड़िता गर्भवती हो गई तो उसके परिवार में कोहराम मच गया।

भाजपा नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज-

पीड़िता की मां ने जब पूछ्ताछ की तो बीजेपी नेता का नाम सामने आने से पूरा परिवार डर गया। आखिरकार पीड़िता और उसकी मां ने न्याय के लिए पुलिस के चक्कर लगाए मगर न्याय न मिलता देख पूरा परिवार खौफ में रहने लगा। न्याय की आस लगाए पीड़िता ने एसपी अनीस अहमद अंसारी से मुलाकात की। जिस पर एसपी अनीस अहमद अंसारी ने तत्काल जाँच के आदेश दिए और भाजपा नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को कोतवाली पुलिस को कहा। पूछताछ में जब पुलिस को रीता नाम की महिला का नाम पता चला तो छापेमारी में सेक्स रैकेट संचालित होने की बात भी सामने आई है। चरखारी पुलिस ने एक महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है जबकि आरोपी बीजेपी नेता अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है।

पी़ड़िता को मिल रही धमकियां-

पीड़िता ने बताया है कि वह गर्भ से है। समाज में लोग उसे गलत निगाहों से देख रहे हैं। उसके साथ दुराचार हुआ और उसका एमएमएस भी बनाया गया। यहीं नहीं गर्भ गिराने का भी प्रयास हेमुराजा और रीता द्वारा किया गया है। उसने बताया कि उसे न्याय मिलता नजर नहीं आ रहा था, मगर एसपी साहब से मिलने के बाद आरोपी के खिलाफ मुकदमा लिखा गया है। उसे अब भी धमकियां मिल रही हैं। मुकदमा वापस लेने का दबाब बनाया जा रहा है।

इस पूरे मामले को लेकर एसपी अनीस अहमद अंसारी का कहना है कि आरोपी के खिलाफ सम्बंधित धाराओं में मुकदमा लिखा गया है। आरोपी की तलाश की जा रही है। पीड़िता को डॉक्टरी परिक्षण के लिए महिला जिला अस्पताल भेजा गया है।