भाजपा केंद्र व राज्य सरकारों की उपलब्धियां गिनाने में जुटा

14
SHARE

पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष मना रही भाजपा ने जन कल्याण सम्मेलन की अंतिम तारीख 30 जून रखी लेकिन, अब इसे दो जुलाई तक बढ़ाने की सहमति बन गई है। इस सम्मेलन में केंद्र की योजनाओं के लाभार्थियों को विशेष रूप से बुलाया जा रहा है। दरअसल, इस सम्मेलन के जरिये भाजपा मोदी और योगी सरकार की उपलब्धियों को भी गिनाने में जुटी है।

भाजपा इसके जरिये आने वाले निकाय चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव अभियान की भी पृष्ठभूमि तैयार कर रही है। इस आयोजन में जीएसटी से मिलने वाले लाभ को भी बताया जा रहा है। केंद्र और राज्य की योजनाओं से पात्रों को लाभ पहुंचाने पर योगी सरकार का जोर है। गांवों में बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें योजनाओं की जानकारी नहीं है। जन कल्याण सम्मेलन के जरिये भाजपा न केवल योजनाओं की जानकारी दे रही है बल्कि, केंद्र की जिन योजनाओं से लोगों को लाभ मिला है उन्हें विशेष रूप से आमंत्रित कर रही है।

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर बताते हैं कि जन कल्याण सम्मेलन की तारीख बढ़ेगी। उज्ज्वला योजना और मुद्रा बैंक के लाभार्थियों की इन सम्मेलनों में गहरी रुचि है। जिन्हें इन योजनाओं का लाभ मिला है उनके अनुभव से दूसरे लोग भी प्रेरित हो रहे हैं। राठौर बताते हैं कि हर ब्लाकों में हो रहे इस कार्यक्रम में लोगों को नई जानकारी भी मिल रही है। इसलिए इसमें प्रतिभागियों की रुचि बढ़ रही है।

भाजपा के लोगों का आरोप है कि तीन वर्षों की केंद्र सरकार की ज्यादातर योजनाओं का लाभ पात्रों को नहीं मिला। इधर योगी सरकार बनने के बाद इसमें तेजी आई। भाजपा के लोग यही समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि मोदी सरकार उनके विकास के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन, पिछली सरकार इसमें रोड़ा रही है। भाजपा कार्यकर्ता इसके प्रचार प्रसार में तेजी से जुटे हैं। इन आयोजनों के जरिये भाजपा योगी सरकार की उपलब्धियों को भी बता रही है। योगी के सौ दिन पूरे होने के बाद उनके एक-एक कार्यों को गिनाया जा रहा है। इससे सरकार और संगठन के सामंजस्य को दिखाने की पहल की गई है।

source-DJ