अखिलेश, मुलायम, सोनिया गांधी के खिलाफ भाजपा ने इन्हें दिए टिकट

19
SHARE

भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश की तीन हाई प्रोफाइल सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। यह सीटें आज़मगढ़, मैनपुरी और रायबरेली की हैं। सपा-बसपा गठबंधन के तहत आज़मगढ़ से समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव और मैनपुरी से सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव उम्मीदवार हैं। रायबरेली से कांग्रेस की सोनिया गांधी उम्मीदवार हैं। इन तीनों सीटों भाजपा के उम्मीदवार कौन होंगे इस पर पूरे प्रदेश ही नहीं देश की भी नजरें लगी हुई थीं।

भाजपा ने उम्मीदवारों की एक नई सूची जारी की है जिसमें 6 नाम हैं। इस लिस्ट में आजमगढ़ से भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ को टिकट दिया है। इस बात की चर्चाएं पहले से थीं और यह सही साबित हुई हैं। इसी सीट से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सपा-बसपा गठबंधन के तहत चुनाव लड़ रहे हैं।

भाजपा ने मैनपुरी से सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ प्रेम सिंह शाक्य को उम्मीदवार बनाया है। इस सीट को समाजवादी पार्टी का गढ़ माना जाता है जहां से किसी भी अन्य पार्टी के लिए गुंजाइश बेहद कम है। इसीलिए भाजपा ने सामाजिक समीकरण साधने की कोशिश की है, प्रेम सिंह शाक्य उस शाक्य-कुशवाहा समाज से हैं जिसकी संख्या इस इलाके में यादवों के बाद सबसे ज्यादा है।

उधर रायबरेली सीट से भाजपा ने सोनिया गांधी के खिलाफ दिनेश प्रताप सिंह को मैदान में उतारा है। दिनेश प्रताप सिंह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए हैं। दिनेश प्रताप सिंह कांग्रेस के बड़े और ताकतवर नेताओं में से एक रहे हैं, और भाजपा ने इसी बात को देखते हुए उन्हें उम्मीदवार बनाया है।

इन तीनों सीटों पर खास बात यह है कि यहां मुकाबला दो तरफा ही है क्योंकि सपा – बसपा गठबंधन ने जो दो सीटें छोड़ी हैं उनमें रायबरेली एक है और कांग्रेस ने भी सपा-बसपा-आरएलडी के बड़े नेताओं के लिए सात सीटें छोड़ने का ऐलान किया हुआ है। इससे इन सीटों पर भाजपा के लिए चुनौती बड़ी है।