अश्विन और जडेजा ने टॉप 10 में जगह बना कर 42 साल बाद यह कीर्तिमान बनाया

4
SHARE

इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज़ में 4-0 से पस्त कर टीम इंडिया ने इस साल का अंत आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में टॉप पर रह कर किया है। भारतीय टीम के इस शानदार प्रदर्शन में गेंदबाज़ों का भी उतना ही योगदान रहा जितना बल्लेबाज़ों का है। यहीं वजह है अब भारतीय गेंदबाज़ों ने भी आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में सफलता के झंडे गाड़ दिए है। आइसीसी की ताज़ा टेस्ट रैंकिंग में भारतीय टीम नंबर वन तो है ही साथ ही साथ भारत के दो खतरनाक स्पिनर आर अश्विन और जडेजा ने टॉप 10 में जगह बना कर 42 साल बाद यह कीर्तिमान बनाया है|

दरअसल आश्विन और जडेजा दोनों स्पिनर टेस्ट रैंकिंग में टॉप 10 का हिस्सा हैं, जहां अश्विन पहले स्थान पर तो जडेजा दुसरे स्थान पर काबिज़ है। यह उनके लगातार बेहतर प्रदर्शन का ईनाम है। अश्विन और जडेजा से पहले 1974 में बिशनसिंह बेदी और भागवत चंद्रशेखर पहले और दूसरे स्थान पर रहें हैं। रविचंद्रन अश्विन 8871 अंक के साथ पहले और रविन्द्र जडेजा 8792 अंक के साथ दूसरे स्थान पर काबिज़ हैं। इन दोनों गेंदबाजों के अलावा कोई भी दूसरा भारतीय गेंदबाज शीर्ष 20 में नहीं है। आलराउंडरों की लिस्ट में अश्विन अभी भी टॉप पर हैं। दूसरे पायदान पर बंग्लादेश के शाकिब अल हसन हैं। इसके बाद तीसरे पायदान पर सर जडेजा हैं। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया है। जिसका ईनाम उन्हें टेस्ट रैंकिंग में मिला|

इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में 655 रन बनाने वाले कप्तान कोहली को उनके प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज से नवाजा गया। विराट कोहली ने टेस्ट रैंकिंग में अपना दूसरा पायदान बरकरार रखा है। उनसे आगे ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ हैं। शीर्ष 10 में कोहली के अलावा चेतेश्वर पुजारा हैं। वे 9वें नंबर पर हैं। इसके अलावा शीर्ष 20 में कोई और भारतीय बल्लेबाज नहीं है। मुरली विजय 26वें और अश्विन 39वें पायदान पर हैं। इसके अलावा चेन्नई टेस्ट में तिहरा शतक लगाने वाले करूण नायर टेस्ट रैंकिंग में 55वें पायदान पर हैं। 199 रन बनाने वाले केएल राहुल 51वे और शिखर धवन 50वें पायदान पर हैं। चोट से बाहर चल रहे रोहित शर्मा 44वें नंबर पर हैं|