अरविंद केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी पर लगाया घूस लेने का आरोप

7
SHARE

दिल्‍ली विधानसभा में नोटबंदी के खिलाफ प्रस्‍ताव पेश करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पहली बार कुर्सी पर बैठे किसी प्रधानमंत्री का नाम काले धन के किसी घोटाले में आया है। उन्‍होंने कहा कि नवंबर 2012 में गुजरात का सीएम रहते हुए मोदी के आदित्य बिरला ग्रुप के लेनदेन के बारे में जानकारी एक लैपटॉप से मिली थी। उसमें ‘गुजरात सीएम-25 करोड़’ लिखा था। केजरीवाल ने कहा कि ”पनामा घोटाले में मोदी जी के कितने दोस्‍तों के नाम थे, मगर कोई एक्‍शन नहीं लिया गया। 648 लोगों के स्विस बैंक अकाउंट नंबर तक लिखे हुए थे, मगर कार्रवाई इसलिए नहीं हुई क्‍योंकि इस लिस्‍ट के अंदर प्रधानमंत्री मोदी जी के दोस्‍त हैं।” दस्‍तावेज सामने रखते हुए सीएम ने कहा, ”आज मैं सबूत लेकर आया हूं। आयकर विभाग ने 15 अक्‍टूबर 2013 को आदित्‍य बिरला ग्रुप पर छापेमारी हुई। वापस आने के बाद इनकम टैक्‍स की अप्रेजल रिपोर्ट में बिरला ग्रुप के अकाउंटेंट ने कहा कि मैं हवाला का पैसा लेकर आता हूं। मेरे बॉस का नाम शुभेन्‍दु अमिताभ हैं। वे बिरला ग्रुप के एक्‍जीक्‍यूटिव प्र‍ेसिडेंट थे।”

khabar787878

आम आदमी पार्टी ने आगे कहा, ”जब उनके लैपटॉप, मोबाइल चेक किए गए तो एक एंट्री मिली जिसमें लिखा है ‘गुजरात सीएम-25 करोड़’ आगे ब्रैकेट में लिखा है (12 करोड़ डन- बाकी)। जब शुभेन्‍दु से पूछा गुजरात सीएम का क्‍या मतलब है तो वे बोले कि गुजरात एल्‍केली केमिकल्‍स। आयकर विभाग ने एनालिसिस में लिखा है कि शुभेन्‍दु बोल रहे हैं। 13 में रेड हुई थी, छह महीने के बाद इनकी (मोदी) सरकार आ गई थी। अब इस केस को रफा-दफा करने की कोशिश की जा रही है।”

विधानसभा में आप नेता संजय सिंह ने ट्विटर पर इसी हैशटैग से लिखा, ”मोदी ने बिड़ला ग्रुप से 25 करोड़ रु रिश्वत ली, अमीरों का 1.14 लाख करोड़ माफ़ कर दिया, मोदी अमीरों के साथ, ग़रीबों के ख़िलाफ़।

अरविंद केजरीवाल ने नरेंद्र मोदी की मां हीरा बा के लाइन में खड़े होने को गलत बताया। केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा, ‘मोदीजी ने राजनीति के लिए माँ को लाइन में लगा ठीक नहीं किया। कभी लाइन में लगना हो तो मैं ख़ुद लाइन में लगूँगा, माँ को लाइन में नहीं लगाउँगा।’