पत्थरबाज को जीप के आगे बांधने से बेहतर अरुंधति रॉय को बांधा जाए: बीजेपी सांसद परेश

52
SHARE

परेश रावल ने एक ट्वीट में कहा कि कश्मीर में पत्थरबाज को आर्मी की जीप के आगे बांधने से बेहतर है कि अरुंधति रॉय को इसके आगे बांधा जाए। बीजेपी सांसद परेश के इस ट्वीट के बाद दिग्विजय सिंह ने भी एक ट्वीट के जरिए तंज कसा। कहा- उस शख्स को क्यों नहीं जिसने बीजेपी-पीडीपी अलायंस कराया है। बता दें कि पिछले महीने पत्थरबाजी करने वाले एक शख्स को आर्मी ने अपनी जीप के आगे बांध दिया था। आर्मी के इस कदम की आलोचना भी हुई थी। फोर्स ने मामले की जांच का भरोसा दिया था। अरुंधति रॉय बुकर प्राइज विनर राइटर हैं|

परेश रावल ने रविवार रात एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा- पत्थरबाज को आर्मी जीप के आगे बांधने की जगह अरुंधति रॉय को इसके आगे बांधा जाना चाहिए। इसके बाद कई लोगों ने रावल के ट्वीट पर जवाब दिए। एक ट्वीट का जवाब देते हुए रावल ने कहा- हमारे पास ढेर सारी और कई तरह की च्वाइस हैं।

गुजरात के इस बीजेपी सांसद के ट्वीट को 14 घंटे में 3 हजार बार से ज्यादा री-ट्वीट किया गया। इस पर करीब 6 हजार लाइक्स भी आए। रावल ने 2014 में बीजेपी ज्वाइन करने के साथ ही सियासत में कदम रखा था।

परेश रावल के ट्वीट पर कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी दिग्विजय सिंह ने तंज कसा। कहा- उस शख्स को क्यों नहीं जिसने बीजेपी-पीडीपी अलायंस कराया। अरुंधति रॉय को 1997 में उनके नॉवेल ‘द गॉड ऑफ स्मॉल थिंग्स’ के लिए बुकर प्राइज मिला था। उनका अगला नॉवेल ‘द मिनिस्ट्री ऑफ अटमोस्ट हैप्पीनेस’ अगले महीने आने वाला है।