15 अप्रैल से कानपुर में सेना भर्ती रैली, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू

133
SHARE

15 अप्रैल से कानपुर में सेना भर्ती रैली के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए है|सेना में भर्ती होने के लिए अब अभ्यर्थियों को ऑनलाइन पंजीकरण कराते ही तुरंत प्रवेश पत्र भी मिल जाएगा। सेना पंजीकरण करते ही मौके पर अभ्यर्थी के रोल नंबर भी आवंटित करेगी। इससे अभ्यर्थी को प्रवेश पत्र का प्रिंट हासिल करने के लिए दोबारा किसी साइबर कैफे के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। सेना भर्ती कार्यालय लखनऊ के अंतर्गत आने वाले 13 जिलों के अभ्यर्थियों को यह सुविधा मिलेगी। भर्ती रैली 15 से 30 अप्रैल तक कानपुर छावनी में होगी। इस भर्ती रैली के लिए ऑनलाइन पंजीकरण सेना की वेबसाइट पर शुरू हो गया है। प्रवेश पत्र का ब्लैक एंड व्हाइट प्रिंट आउट ही मान्य होगा|

सेना ने पिछले साल से ही भर्ती रैली में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा शुरू की थी। सभी पंजीकरण पूरा होने के बाद सेना अभ्यर्थियों को रोल नंबर आवंटन कर उनके प्रवेश पत्र वेबसाइट पर अपलोड करती थी। अब सेना ने नई व्यवस्था लागू कर दी है। सेना ने लखनऊ सहित 13 जिलों के अभ्यर्थियों की भर्ती रैली के लिए वेबसाइट पर पंजीकरण शुरू कर दिया है। अभ्यर्थियों को इस वेबसाइट पर जाकर अपना पूरा ब्योरा भरना होगा। ब्योरा भरते ही अभ्यर्थियों को रोल नंबर आवंटित हो जाएगा। इससे अभ्यर्थी मौके पर ही प्रवेश पत्र का प्रिंट हासिल कर सकेंगे। प्रवेश पत्र लेने के बाद अभ्यर्थी दौड़ और अन्य शारीरिक दक्षता परीक्षा में शामिल होंगे|

कानपुर में होने वाली रैली में सैनिक जीडी, सैनिक तकनीकी, नर्सिंग सहायक वेटनरी, सैनिक तकनीकी (एविऐशन एवं एम्युनिशन एग्जामिनर), ट्रेड्समैन, लिपिक, स्टोरकीपर के पदों के लिए अभ्यर्थी भाग्य आजमाएंगे|

सेना भर्ती में लखनऊ के अलावा बाराबंकी, गोंडा, औरैया, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, हमीरपुर, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर, महोबा और उन्नाव जिलों के अभ्यर्थी हिस्सा लेंगे|

इस बार भर्ती रैली में युवाओं को अंक हासिल करने के लिए अधिक दमखम दिखाना होगा। दौड़ के लिए ए वर्ग में आने के लिए 10 सेकेंड का समय कम कर दिया गया है। अब 5:40 मिनट की जगह 5:30 मिनट के भीतर 1.6 किलोमीटर की दौड़ पूरी करने पर 60 अंक मिलेंगे। जबकि 5:31 मिनट से 5:45 मिनट का समय लेकर दौड़ पूरा करने पर 48 अंक मिलेंगे। वहीं, अब सैनिक लिपिक और स्टोरकीपर के लिए इंटरमीडिएट में 50 की जगह 60 प्रतिशत अंक अनिवार्य होंगे|