जम्मू-कश्मीर में एक आतंकी ढेर, दूसरे के सरेंडर के लिए सेना ने ली पत्नी की मदद

4
SHARE

दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ की खबर है. सुरक्षाबलों ने एक घर में छुपे लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकी को मार गिराया गया है. घर में छुपे दूसरे आतंकी को बाहर लाने की कोशिश की जा रही है. आतंकी को बाहर लाने के लिए सेना आतंकी की पत्नी की मदद ले रही है. सूत्रों का कहना है कि मारा गया आतंकी जहांगीर गनी पिछले साल पुलिसवाले की हत्या की घटना में भी शामिल था. दूसरा आतंकी शेर गुजरी अभी भी सेना के साथ मुठभेड़ कर रहा है. उसकी पत्नी लाउडस्पीकर के जरिए उससे सरेंडर करने की अपील कर रही है. सेना का कहना है कि दोनों आतंकी दक्षिणी कश्मीर के रहने वाले हैं.

सुरक्षाबलों ने पडगामपोरा गांव में आतंकवादियों की सूचना मिलने के बाद गांव को चारों ओर से घेर लिया था और गोलीबारी शुरू हो गई थी. पुलिस ने बताया, “शुरुआती रिपोर्टों में बताया गया कि तीन से चार आतंकवादी छिपे हुए हैं. मुठभेड़ की खबर के बाद पडगामपोरा गांव के पास ही बनिहाल-बारामूला रेलगाड़ी सेवा को रोक दिया गया था.

इस इलाके में पिछले चार दिनों में सुरक्षाबलों की यह दूसरी बड़ी मुठभेड़ है. इससे पहले पुलवामा के त्राल इलाके में लगभग 24 घंटे चली मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए थे. इसमें एक पुलिसवाले को भी शहादत देनी पड़ी और तीन सुरक्षाकर्मी घायल भी हो गए थे.

इसके साथ ही लखनऊ में भी एक एनकाउंटर हुआ है, जिसमें आईएसआईएस से प्रभावित संदिग्ध आतंकी सैफुल्ला को मार दिया गया. यह मुठभेड़ भी 12 घंटे चली थी. इस एनकाउंटर के तार मध्य प्रदेश में हुए ट्रेन ब्लास्ट से जुड़े हुए हैं.