अफवाह के बाद नमक खरीदने भागी महि‍ला, 6 फीट गहरे गड्ढे में गि‍रने से मौत

25
SHARE
मनमाने रेट पर नमक बि‍कने की अफवाह ने शुक्रवार रात एक महिला की जान ले ली। वह अपने इलाके की दुकानों में नमक ढूंढते-ढूंढते आधा किलोमीटर दूर कानपुर के बाकरगंज बाजार जाने के लि‍ए दौड़ पड़ी। वहां नगर निगम द्वारा खोदे 6 फीट गहरे गड्ढे में गि‍र गई। किसी तरह लोगों ने उसे नि‍कालकर अस्पताल में भर्ती कराया। वहां इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। क्‍या है पूरी घटना…
– कानपुर में शुक्रवार शाम नमक मनमाने रेट पर बि‍कने की अफवाह फैली।
– शहर के बाबूपुरवा कोतवाली इलाके की रहने वाली ममता (52) ने यह सुना तो नमक खरीदने निकल पड़ी।
– उसकी बहू रोशनी के मुताबिक वह अपने इलाके की सभी दुकानों पर नमक खरीदने के लिए भटकती रही, लेकिन उसे नमक नहीं मिला।
– रोशनी ने बताया कि कई दुकानदारों से वह मिन्नत करती रही कि दो पैकेट नमक दे दो, लेकिन किसी ने नहीं दिया।
– जब नमक नहीं मिला तो घर से आधा किलोमीटर दूर कानपुर के बाकरगंज बाजार गई।
– वहां दुकान पहुंचने के पहले ही नगर निगम के 6 फीट गहरे गड्ढे में पाइप लाइन बिछाई जा रही थी। हडबड़ाहट में उसका पैर फिसल गया और वह उसमें गिर गई।
– रोशनी ने बताया कि उसकी सास का सिर गड्ढे में पड़ें ईटों से टकरा गया जिसकी वजह से सिर में गंभीर चोट लग गई।
– वहां मौजूद लोगों ने उन्हें बाहर निकाला जब पुलिस वहां पहुंची तो स्थानीय लोगो की मदद से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।
– अस्‍पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
क्‍या कहते हैं स्‍थानीय लोग
– मृतका के रिश्तेदार अनूप के मुताबिक नगर निगम का यह गड्ढा बीते 15 दिनों से खुला पड़ा है। आए दिन उसमें कोई न कोई गिरता रहता है, लेकिन अधिकारी इस पर ध्यान नहीं देते हैं।
– इनकी लापरवाही की वजह से इनकी जान गई है। साथ ही दुकानदार यदि नमक के मनमाने रुपए नहीं मांगते तो उन्हें मोहल्ले में ही नमक मिल जाता। कम से कम उनकी जान तो न जाती। नमक की अफवाह ने एक निर्दोष की जान ले ले ली।
– बाबूपुरवा कोतवाली इंस्‍पेक्टर केके सिंह के मुताबिक गड्ढे में गिरकर महिला की मौत हुई है। पुलिस ने उन्हें उपचार के अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।