आयोग द्वारा अनुदान देने में गलत क्या, फंडिंग मामले में अपर्णा यादव ने कहा

35
SHARE

अपर्णा यादव के एनजीओ को सपा सरकार में हुई फंडिंग का मामले में एक न्यूज एजेंसी से कहा, ‘आयोग द्वारा अनुदान देने में गलत क्या है? अगर कुछ संगठन पशुओं के कल्याण के लिए अच्छा काम कर रहे तो उन्हें वित्तीय मदद क्यों नहीं की जानिए चाहिए?’

समाजवादी पार्टी के कार्यकाल के दौरान गौशालाओं को दिए जाने वाले सरकारी आवंटन का 86 फीसद, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की भाभी और मुलायम सिंह यादव के दूसरे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी अपर्णा यादव के एनजीओ को मिले थे। इस बात का खुलासा एक आरटीआई के जरिए हुआ।

राज्य में अखिलेश यादव के कार्यकाल के दौरान, गौसेवा आयोग से मिलने वाले गौशाला फंड्स का बड़ा हिस्सा अपर्णा याजव के एनजीओ जीव आश्रय को गया है। सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर की ओर से पूछे गए सवाल के जवाब में यूपी गौ सेवा आयोग ने अपने जवाब में कहा कि सपा सरकार के पांच सालों के कार्यकाल में कुल 9.66 करोड़ रुपए की धनराशि स्वीकृत की गई थी, जिसमें से 8 करोड़ 35 लाख रुपए अपर्णा के जीव आयोग एनजीओ को दिया गया है।