सैलरी डे पर आज लंबी लाइन की आशंका

13
SHARE

आज दिसंबर महीने के पहले दिन और सैलरी डे के चलते बैंकों और एटीएम के बाहर भारी भीड़ रहने का अनुमान है। इस बीच बैंकों ने कर्मचारियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए पैसों का विशेष बंदोबस्त करने की कोशिश की है। वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के अनुसार बैंकों को अतिरिक्त नकदी उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया है ताकि सैलरी वालों को नकदी लेने में किसी तरह की दिक्कत नहीं हो|

अधिकतर सरकारी संस्थानों और निजी कंपनियों में दिसंबर के पहले सप्ताह में वेतन मिल जाता है। पेंशन भी 1 से 7 के बीच ही खातों में आती है। ऐसे में बड़ी संख्या में लोग पैसे निकालने के लिए जुटेंगे। उधर, एटीएम व बैंकों के सामने लाइनों में कमी नहीं हो रही है। इसे देखते हुए सरकार की चिंता बढ़ी हुई है। इसीलिए आरबीआई को युद्धस्तर पर जुटने को कहा गया है। सरकार ने 500 के नए नोट ज्यादा छापने और बैंकों में जल्द पहुंचाने को कहा है। दूसरी तरफ, आरबीआई 50-50 के नोटों की छपाई ज्यादा मात्रा में कर रहा है ताकि लोगों को खुले पैसों की समस्या से निजात मिल सके। वित्त मंत्रालय भी एक तारीख से बैंकों पर खास नजर रखेगा। सरकार की कोशिश होगी कि बैंकों के स्तर पर पिछलों दिनों आई शिकायतों को कम किया जा सके|

दिसंबर के पहले सप्ताह में नकदी की समस्या से निपटने के लिए रिजर्व बैंक ने डिप्टी गवर्नर एसएस मुंद्रा के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की है। टीम के अधिकारी बैंकों में औचक निरीक्षण भी करेंगे।देवास (मध्य प्रदेश) में 20, 50, 100, 500 रुपये के नोट छप रहे हैं। नासिक (महाराष्ट्र) में 10, 50 और 100 के जबकि मैसूर (कर्नाटक) में 2000 के नए नोट छप रहे हैं।रेलवे काउंटर पर स्वैपिंग मशीन देशभर में रेलवे के 13 हजार टिकट काउंटरों पर स्वैपिंग मशीन लगेंगी। यात्री टिकट बुकिंग का भुगतान अपने डेबिट-क्रेडिट कार्ड से कर सकेंगे|