आप सब की दुआएं मेरे साथ है: दिलीप कुमार

8
SHARE

93 साल के के दिलिप कुमार को बांद्रा के लीलावती अस्पताल में पैरों में सूजन के चलते भर्ती कराया गया था| जैसे ही उन्‍हें अच्‍छा महसूस हुआ तो उन्‍होंने अस्‍पताल के बिस्‍तर से ही चाय पीते हुए अपनी एक फोटो ट्वटिरपर शेयर की|

उन्‍होंने अपनी फोटे के साथ पोस्‍ट किया कि अभी अच्‍छा महसूस कर रहा हूं| पिछली रात रुटीन चेकअप के लिए मैं अस्‍पताल में भर्ती हुआ था| आप सब की दुआएं मेरे साथ है| इस ट्वीट के साथ उन्‍होंने अपनी अस्‍पताल के बिस्‍तर से सायरा बानों के एक फोटो भी शेयर की है|

इससे पहले उनकी पत्नी सायरा बानो ने न्‍यूज एजेंसी पीटीआई को बताया, ‘उनके दाहिने पैर में सूजन थी और हम अच्‍छे से इसकी जांच करवाना चाहते थे इसलिए हम उन्हें अस्पताल ले आए.’ उन्‍होंने बताया कि  कुछ महीनों के अंतराल में उनकी नियमित जांच भी होती है। उनका स्वास्थ्य बिल्कुल ठीक है|’ सायरा बानो ने बताया, ‘उनकी सेहत अच्छी है, चिंता की कोई बात नहीं है|

लोकप्रिय अभिनेता 11 दिसंबर को 94 साल के होने जा रहे हैं और सायरा बानो को आशा है कि तब तक उन्हें छुट्टी मिल जाएगी और वह घर चले जाएंगे. दिलीप कुमार ने एक और फोटो शेयर करते हुए यह भी लिखा है कि किसी ने कहा था कि ‘हेल्‍थ इज वेल्‍थ’ (सेहत ही सबसे बड़ी पूंजी हैं)| मैं आप सब का मशकूर हूं कि आपने हमेशा अपनी दुआओं में मुझे याद रखा|

वहीं सायरा बानों ने कहा कि, ‘डॉक्टर उनकी जांच अच्छे से कर रहे हैं| मैं आशा और प्रार्थना करती हूं कि वह अपने जन्मदिन पर घर पर होंगे| दिलीप कुमार को इस साल अप्रैल में सांस लेने में तकलीफ की वजह से कुछ दिनों के लिए लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था|

अपने छह दशक लंबे करियर में इस लोकप्रिय अभिनेता ने ‘मधुमती’, ‘देवदास’, ‘मुगल-ए-आजम’, ‘गंगा-यमुना’, ‘राम और श्याम’ तथा ‘करमा’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है| वह आखिरी बार पर्दे पर साल 1998 में आई फिल्म ‘किला’ में दिखे थे| दिलीप कुमा को साल 1994 में दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड और 2015 में पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है|