बाबरी केस में सभी आरोपियों पर चलेगा साजिश का मुकदमा

25
SHARE

अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने के केस में लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत 6 नेताओं पर आपराधिक साजिश रचने का आरोप तय हो गया है। इससे पहले कोर्ट ने आडवाणी, जोशी और उमा भारती समेत 12 बीजेपी नेताओं को बरी करने की अर्जी सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने खारिज कर दी है। इन सभी को 20-20 हजार के निजी मुचलके पर जमानत दे दी थी।

19 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अयोध्या में विवादित ढांचा गिराने के मामले में आडवाणी समेत बीजेपी के 13 नेताओं पर आपराधिक साजिश का केस चलेगा। कोर्ट ने सीबीआई की पिटीशन पर ये फैसला सुनाया था। दोनों केस को दो साल के अंदर खत्म करने को कहा था।

6 दिसंबर, 1992 में बाबरी मस्जिद गिराने को लेकर दो मामले थे। एक मामला कार सेवकों के खिलाफ था। इसकी सुनवाई लखनऊ में हुई थी, जबकि दूसरा मामला मंच पर मौजूद नेताओं और दूसरे लोगों के खिलाफ था। इसकी सुनवाई रायबरेली में हुई थी।

बता दें कि इससे पहले लाल कृष्ण आडवाणी समेत सभी आरोपियों की कोर्ट ने जमानत मंजूर की। अयोध्या मामले में अदालत में पेश होने के ल‌िए भाजपा के बड़े नेता लखनऊ पहुंचे। सभी नेता वीवीआईपी गेस्ट हाउस पहुंचें यहां सीएम योगी आद‌ित्यनाथ ने वर‌िष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी का स्वागत क‌िया। आडवाणी के साथ उनकी बेटी प्रत‌िभा आडवाणी भी मौजूद रहीं।

इसके बाद कोर्ट रूम में ट्रायल शुरू हुआ। सभी आरोप‌ियों को सीबीआई की चार्जशीट में लगाए गए आरोप पढ़कर सुनाए गए। भाजपा नेताओं पर अयोध्या का व‌िवाद‌ित ढांचा ग‌िराने और षडयंत्र रचने का आरोप है। आरोप‌ियों को इस पर जवाब देना होगा।