अखिलेश राज में अपर्णा यादव को मिला गौसेवा का सबसे ज्यादा अनुदान

88
SHARE

उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार के समय में गौसेवा के नाम पर घोटाला उजागर हुआ है। जानकारी के अनुसार आयोग ने प्रदेश में चलने वाली विभिन्न गौशालाओं को 5 साल में 9 करोड़ 66 लाख रुपए का अनुदान दिया था। इसमें से 8 करोड़ 35 लाख रुपए का अनुदान सिर्फ अपर्णा की अमौसी स्थित गौशाला कान्हा उपवन को मिल गया। यह मामला आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर को आयोग के जन सूचना अधिकारी डॉ. संजय यादव द्वारा दी गई सूचना से सामने आया है।

सूचना मुताबिक वित्तीय वर्ष 2012-2017 के 5 सालों में गौशालाओं को कुल 9.66 करोड़ रुपए का अनुदान दिया गया था, जिसमें 8.35 करोड़ रुपए अकेले जीव आश्रय संस्था को दिया गया, जो कुल अनुदान का 86.4 प्रतिशत है। इतना ही नहीं वर्ष 2012-13, 2013-14 तथा 2014-15 में इस निधि से अकेले जीव आश्रय संस्था को ही अनुदान मिला, जो लगभग 50 लाख, 1.25 करोड़ और 1.41 करोड़ था।

बता दें कि वित्तीय वर्ष 2015-16 में जीव आश्रय को 2.58 करोड़ और श्रीपाद बाबा गौशाला, वृन्दावन को 41 लाख का अनुदान मिला, जबकि 2016-17 में 3.45 करोड़ के कुल अनुदान में 2.55 करोड़ अकेले जीव आश्रय को मिला। बाकी 4 संस्थाओं में सर्वाधिक 63 लाख रुपए श्रीपाद गोशाला को मिला। वित्तीय वर्ष 2017-18 में अब तक 1.05 करोड़ का अनुदान दिया जा चुका है, लेकिन इसमें जीव आश्रय शामिल नहीं है। सर्वाधिक 63 लाख का अनुदान दयोदय गौशाला, ललितपुर को मिला है।