लखनऊ मेट्रो ट्रेन से अखिलेश यादव का बड़ा संदेश, भाजपा पर इशारों में साधा निशाना

109
SHARE

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने चुनाव तारीखों के ऐलान से ठीक पहले अपने प्रचार अभियान को धार देनी शुरू कर दी है। लखनऊ में मेट्रो के सफर के बहाने उन्होंने अपने कार्यकाल में किए गए कार्यों को दिखाने की कोशिश की और साथ ही भाजपा पर निशाना साधा।

लखनऊ में मेट्रो ट्रेन से अखिलेश के सफर के दौरान उनके साथ उनकी पत्नी, मौजूदा सांसद और आगामी चुनाव के लिए कन्नौज से उम्मीदवार डिंपल यादव भी थीं। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान और अन्य नेता भी नजर आए।

अखिलेश यादव ने मेट्रो ट्रेन से सफर करते हुए कई तस्वीरें शेयर की हैं और इनके साथ कैप्शन भी लिखे हैं। पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि हमारे पास बिल्कुल स्पष्ट विकल्प हैं, हम सोशल इंजीनियरिंग को चुन सकते हैं जिससे कुछ लोगों को फायदा होता है अथवा तकनीकि को जिससे बहुतों को फायदा होता है। आप जो भी हों, लखनऊ मेट्रो आपकी सेवा में हाजिर है।बताते चलें कि अखिलेश यादव के प्रयासों से लखनऊ में मेट्रो ट्रेन का कार्य शुरू हुआ। इस ट्वीट से अखिलेश यादव यही याद दिलाने की कोशिश की है।

अखिलेश यादव ने लखनऊ की सड़कें, रेलवे स्टेशन, विश्वविद्यालय की मेट्रो से ली गई तस्वीर दिखाते हुए लिखा है कि हमें बांटने की चाहे जितनी कोशिशें कर ली जाएं लेकिन भारत एकजुट है, हमारे प्यार और भाईचारे को बांटा नहीं जा सकता। संसाधनों पर सभी का बराबर हक है और मिलना भी चाहिए।

मेट्रो ट्रेन के इस सफर और तस्वीरों के बहाने अखिलेश यादव ने बता दिया है कि आगामी चुनावों में उनके प्रमुख एजेंडों में विकास भी होगा। वह लगातार कहते रहे हैं कि भाजपा सरकार के अब तक के कार्यकाल में नए कार्य की बजाय उनकी शुरू की गई योजनाओं का ही नाम बदल कर उद्घाटन किया गया है और चुनाव में वह उन्हें जोरशोर से उठाने वाले हैं।