उत्तर प्रदेश तथा राजस्थान परिवहन विभाग के बीच करार

119
SHARE

आज उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम और राजस्थान परिवहन विभाग के बीच अंतरराज्यीय समझौता हो गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में उनके सरकारी आवास पर समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हो गया। उत्तर प्रदेश परिवहन व राजस्थान परिवहन विभाग के उच्च अधिकारी के साथ उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा तथा श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे। इस अवसर पर राजस्थान से परिवहन मंत्री युनुस खान मौजूद थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक क्षण है। मैं राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को ह्रदय से साधुवाद और आभार प्रकट करता हूं। उन्होंने कहा इस समझौते से भारत की सांस्कृतिक जड़ें मजबूत होंगी। उत्तर प्रदेश के साथ ही राजस्थान के लिए यह ऐतिहासिक क्षण है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश और राजस्थान के बीच विकास कार्य को लेकर बहुत ढेर सारी संभावनाएं है इसे आगे बढ़ाने के लिए करार कर रहे हैं। दोनों प्रदेश के बीच अब व्यापार, पर्यटन, चिकित्सा, शिक्षा को बढ़ावा मिलेगा। दोनों राज्य को मिलाकर कुल 56 हजार किलोमीटर लंबी सड़क पर बस चलेंगी।

सीएम ने कहा कि राष्ट्रीय संप्रभुता के साथ हम सब जुड़े हुए हैं। अब अलवर से कन्नौज के लिए सीधी बस सेवा होगी। काशी, प्रयाग आने के लिए हर व्यक्ति उत्सुक रहता है। अयोध्या आने के लिए भी हर व्यक्ति में उत्सुकता रहती है। इस करार से लोगों की राहें आसान होंगीं। सीएम ने कहा कि सरकारों का कार्य लोक कल्याण के लिए होना चाहिए। सांस्कृतिक संबंधों को मजबूती प्रदान करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों के परिवहन मंत्रियों को धन्यवाद देता हूं। यूपी सरकार पूरे ब्रज क्षेत्र के विकास के लिए संकल्पित है। हम अध्यात्मिक और सांस्कृतिक विकास भी करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विकास के लिए नए आयाम दिए। इसी क्रम में अब परिवहन सेवाओं का विस्तार हो रहा है। जल्द ही कई और राज्यों से यूपी का करार होगा। यूपी में गांव स्तर पर भी बसों का संचालन हो रहा है।

सीएम ने कहा कि हम चाहते हैं कि परिवहन के नियम पाठ्यक्रमों में शामिल किए जाएं। सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता जताते हुए सीएम ने कहा कि दुर्घटनाओं से जो जन और धन की हानि हो रही है। उसके लिए दुर्घटनाओं के कारण और निवारण हमें निकालना होगा। यूपी सरकार सकुशल यात्रा के लिए काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश के अंदर विश्वास पैदा किया है। देश तेजी से आगे बढ़ रहा है। इस अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने परिवहन विभाग का कैलेंडर भी लांच किया। राजस्थान के परिवहन मंत्री यूनुस खान को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने स्मृति चिन्ह भेंट किया।

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि इस एमओयू के माध्यम से दोनों राज्यों के बीच अन्य कई मुद्दों पर जोर देने की कोशिश की जाएगी। आज करार के तहत उत्तर प्रदेश के परिवहन स्वतंत्र देव सिंह मंत्री और राजस्थान परिवहन मंत्री यूनुस खान ने 199 मार्ग पर 56774 किलोमीटर के समझौते पर साइन किया है।

जिसके तहत दिल्ली, जयपुर, अजमेर, हरिद्वार, मेरठ, बीकानेर, गंगानगर, जोधपुर, उदयपुर, वृन्दावन के अलावा गोरखपुर, संभल, इलाहाबाद, सवाई माधोपुर, अलवर और कन्नौज के लिए सीधी बस सेवा शुरू की जाएगी।करार के तहत इनमें दिल्ली, जयपुर,अजमेर, हरिद्वार, मेरठ, बीकानेर, गंगानगर, जोधपुर, उदयपुर, वृंदावन, गोरखपुर, संभल, इलाहाबाद, सवाई माधोपुर अलवर और कन्नौज के लिए सीधी बस सेवा शुरू की जाएगी।