आजमगढ़ की एसिड हमले की शिकार ललिता को विवेक ओबेरॉय ने दिया फ्लैट, चचेरे भाई ने ही फेंका था एसिड

89
SHARE

चचेरे भाई द्वारा एसिड हमले का शिकार हुईं ललिता बेनबंसी (26) ने मंगलवार को शादी रचा ली। एक मिस्ड कॉल ने ललिता को उनके जीवन साथी राहुल कुमार (27) से मिला दिया। रिसेप्शन में एक्टर विवेक ओबेरॉय भी पहुंचे। उन्होंने ललिता को एक फ्लैट गिफ्ट किया।

2012 में ललिता के चचेरे भाई ने पारिवारिक विवाद के चलते उनके चेहरे पर एसिड फेंक दिया था। बुरी तरह जख्मी ललिता की 17 सर्जरी करनी पड़ी, तब जाकर वे ठीक हुईं। ललिता और राहुल ने ठाणे कोर्ट में शादी की। इसके बाद मुंबई में रिसेप्शन हुआ जिसमें एसिड हमले की शिकार कई अन्य लड़कियां भी शामिल हुईं। इस शादी में ललिता की मदद करने के लिए कई लोग आगे आए। ललिता मूलरूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की रहने वाली हैं।

घटना के बाद ललिता आजमगढ़ से ठाणे के कलवा इलाके में आकर रहने लगीं। यहां साहस फाउंडेशन की मदद से गुजर-बसर करने लगीं। करीब दो महीने पहले ललिता के फोन से गलती से राहुल का नंबर लग गया था। इसके बाद बातचीत का सिलसिला शुरू हुआ जो प्यार में बदल गया और दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया। ललिता ने अपनी पूरी कहानी के साथ कदम को यह भी बताया कि वह राहुल से शादी करना चाहती हैं। इसके बाद कदम ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर ललिता और राहुल की शादी के इंतजाम किए।

एक्टर विवेक ओबेरॉय ने ललिता को फ्लैट दिया है, साथ ही भविष्य में होने वाले ऑपरेशन का खर्च उठाने का वादा किया है।