शामली मुठभेड़ में फरार साबिर का साथी इंतजार पुलिस ने दबोचा

72
SHARE

आज तड़के पुलिस ने झिंझाना में मुठभेड़ के बाद कुख्यात साबिर के साथी इंतजार को पकड़ लिया है। इंतजार पैर में गोली लगने से घायल हो गया है। इंतजार शामली के मंसूरा गांव का रहने वाला है। पुलिस ने पकड़े गए बदमाश के पास से लूटी गई बाइक और तमंचा बरामद किया।

झिंझाना के मसूरा मार्ग पर दो दिन पहले एक लाख के ईनामी साबिर के साथ हुई मुठभेड़ में फरार इंतजार पुत्र लतीफ निवासी जीवाड़ा को झिंझाना पुलिस ने आज मुठभेड़ के दौरान दबोचा। इंतजार को पैर में लगी गोली। उसको घायल होने के कारण शामली सीएचसी में भर्ती कराया गया है। इंतजार ने साबिर के साथ पुलिस पार्टी पर फायरिंग की थी और अपने एक साथी अकबर एक बार फिर भागने में सफल रहा था।

आज उसको पुलिस ने एक बार फिर गिरफ्त में लिया है। इंतजार से एक तमंचा दो जिंदा कारतूस व दो खोखे बरामद हुए हैं। आज तड़के पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मनसुरा रोड पर घेराबंदी की। इस पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी । जिसके जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। एक बदमाश के पैरों में गोली लगन से घायल हो गया। दूसरा साथी फरार हो गया। पकड़ा गया बदमाश सहारनपुर के गांव जिवाला का निवासी इंतजार है। फरार साथी का नाम अकबर बताया जा रहा है।

दोनों ही कुख्यात साबिर के साथी बताए जा रहे है। एक लाख के इनामी साबिर को दो तारीख की रात को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था। साबिर के साथी इंतजार व अकबर मोके से फरार हो गए थे। जिसमें पुलिस ने आज इंतजार पुलिस के हत्थे चढ़ गया।