आज से पासपोर्ट बनवाने के लिए आधार जरूरी

12
SHARE

आधार कार्ड एक जुलाई, 2017 से कई अहम चीजों के लिए ‘आधार’ देने को जरूरी बना दिया गया है। ऑनलाइन रिटर्न भरने से लेकर पासपोर्ट बनवाने और स्कॉलरशिप लेने तक के लिए ‘आधार’ नंबर देना होगा। हालांकि, कई गवर्नमेंट स्कीम्स का फायदा 30 सितंबर तक बगैर ‘आधार’ भी मिलता रहेगा। केंद्र सरकार ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में यह जानकारी दी थी। इन्फॉर्मेशन एंड टेक्नोलॉजी (आईटी) मिनिस्ट्री के मुताबिक, देश की 85% से ज्यादा आबादी ‘आधार’ से जुड़ चुकी है।

पैन को ‘आधार’ से जोड़ना अब जरूरी कर दिया गया है। चार्टड अकाउंटेंट (सीए) हिमांशु कुमार के मुताबिक इससे गवर्नेंट-कंज्यूमर दोनों को फायदा है। पैन से दो मिनट में इनकम टैक्स रिटर्न ऑनलाइन दाखिल किया जा सकेगा। वहीं, कई लोग 2-3 पैन रखते हैं और टैक्स चोरी के लिए फर्जीवाड़ा करते हैं। इस पर रोक लगेगी।

सरकारी स्कूल-कॉलेज में भी ‘आधार’ से लिंक नहीं होने पर स्कॉलरशिप नहीं मिल पाएगी। इससे घोटाला नहीं हो सकेगा। असली हकदार को ही इसका फायदा मिलेगा। रेलवे का रियायती टिकट लेना हो तो भी आधार जरूरी। इससे रियायत के हकदार को ही फायदा मिलेगा। गलत पहचान से फर्जी शख्स रियायत नहीं ले पाएगा। प्रोविडेंट फंड (पीएम) अकाउंट को आधार से लिंक करना जरूरी करने से अब पीएफ के सेटलमेंट की प्रॉसेस आसान हो जाएगी। पीएफ का पेमेंट सही शख्स को ही होगा।

राशन के लिए ‘आधार’ जरूरी कर दिया गया है। इससे अकेले हरियाणा सरकार को ही साल में 500 करोड़ रुपए की बचत की उम्मीद है। फर्जी नाम से अनाज लेने वालों पर लगाम लगेगी।

विदेश जाने वाले भारतीयों को एक जुलाई से एयरपोर्ट पर डिपार्चर स्लिप जमा कराने की जरूरत नहीं है। हालांकि, सड़क या समुद्र के रास्ते सफर करने पर अभी भी स्लिप भरनी होगी।