गोरखपुर में शराबी पति ने गर्भवती पत्नी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या की

95
SHARE

गोरखपुर में कैंपियरगंज के भौराबारी निवासी महेंद्र ने सात माह की गर्भवती पत्नी 32 वर्षीय पिंकी को बुधवार की रात कुल्हाड़ी से गला काटकर मौत के घाट उतार दिया। पिंकी की सास के शोर मचाने पर ग्रामीण एकत्र हो गए लेकिन तब तक आरोपी फरार हो चुका था। प्रधान की तहरीर पर मुकदमा कायम हुआ है।

पेशे से मजदूर महेंद्र शराब का आदी है। इसको लेकर पत्नी से विवाद होता था। बुधवार की रात भी शराब के नशे में धुत होकर घर आने पर विवाद हुआ। महेंद्र ने पत्नी के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसी दौरान उसने कमरे में रखी कुल्हाड़ी से पत्नी के सिर और गर्दन पर कई वार कर दिए।

बहू की चीख सुनकर महेंद्र की मां कलवारी देवी कमरे में पहुंची तो वह उन्हें धक्का देकर फरार हो गया। उनके शोर मचाने पर मोहल्ले के लोग इकट्ठा हो गए। तड़प रही पिंकी को अस्पताल ले जाने की तैयारी की जा रही थी लेकिन उसकी मौत हो गई। पड़ोसियों ने ही 100 नंबर पर फोन कर घटना की सूचना पुलिस को दी। महेंद्र के तीन बच्चे सरोज (9) राजमन (5) और संध्या (2) हैं। तीनों रात में दादी कलवारी देवी के साथ सो रहे थे। प्रधान मनोज जायसवाल की तहरीर पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

महेंद्र पहले मजदूरी करता था लेकिन शराब की लत लग जाने के बाद उसने काम करना बंद कर दिया। परिवार चलाने के लिए पिंकी पहले गांव में ही ईंट भट्ठे पर मजदूरी करती थी। सात माह पहले वह पति और बच्चों के साथ गोरखपुर में माधोपुर, तिवारीपुर स्थित मायके में आकर रहने लगी। पेट में सात माह का बच्चा होने की वजह से काम करना उसके लिए मुश्किल होता जा रहा था। इसलिए बुधवार की शाम पति और बच्चों के साथ ससुराल चली गई थी।