बदरीनाथ हाइवे पर टूटी चट्टान, 30 हजार यात्री फंसे

13
SHARE

शुक्रवार को बदरीनाथ हाईवे में  हाथी पर्वत का एक बड़ा हिस्सा टूटकर आने से राजमार्ग अवरुद्ध हो गया। इसके चलते बदरीनाथ यात्रा भी रोक दी गई। हाईवे बंद होने से बदरीनाथ सहित विभिन्न पड़ावों में करीब तीस हजार तीर्थयात्री फंसे हुए हैं।

बीआरओ के अधिकारियों ने शनिवार पूर्वाह्न 11 बजे तक हाईवे को सुचारु करने का दावा किया है। बदरीनाथ राजमार्ग में शुक्रवार अपराह्न साढ़े तीन बजे अचानक हाथी पर्वत की तलहटी में चट्टान का एक बड़ा हिस्सा टूटकर हाईवे पर आ गिरा। गनीमत यह रही कि इस दौरान हाईवे पर कोई यात्रा वाहन नहीं गुजर रहा था।

पुलिस प्रशासन की ओर से बदरीनाथ धाम सहित यात्रा पड़ाव गौचर, कर्णप्रयाग, नंदप्रयाग, चमोली, पीपलकोटी, जोशीमठ, गोविंदघाट, पांडुकेश्वर और बदरीनाथ में लाउडस्पीकर से तीर्थयात्रियों को सुरक्षित स्थानों में शरण लेने की अपील की गई। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की ओर से शाम चार बजे से हाईवे को खोलने का काम भी शुरू कर दिया गया है।

बीआरओ के कमांडर आर सुब्रमण्यम का कहना है कि चट्टान से भारी मात्रा में बोल्डर हाईवे पर आ गए हैं, जिन्हें विस्फोट से तोड़ा जा रहा है। शनिवार पूर्वाह्न 11 बजे तक हाईवे को सुचारु कर दिया जाएगा।