स्कूल में 7 साल के मासूम की हत्या, अभ‌िभावक कम‌िश्नर ऑफ‌िस के बाहर बैठे

70
SHARE

शुक्रवार को भोंडसी स्थित रायन इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय मासूम की हत्या के व‌िरोध में छात्र के प‌र‌िजन कम‌िश्नर कार्यालय के बाहर धरना दे रहे हैं।

कक्षा दो में पढ़ने वाले प्रद्युमन ठाकुर का शव सुबह स्कूल टॉयलेट में मिला। बादशाहपुर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हत्या की सूचना के बाद करीब एक हजार अभिभावक स्कूल में जमा हो गए।

गुस्साएं अभिभावकों ने स्कूल में जमकर तोड़फोड़ की और सिविल लाइन स्थित पोस्टमार्टम हाउस के बाहर भी अभिभावकों ने सड़क जाम कर दिया। स्कूल की तरफ से सांत्वना देने पहुंचे शिक्षकों पर परिजनों ने हमला बोल दिया। पत्थर मारकर गाडिय़ों का शीशा फोड़ दिया। घटना के बाद स्कूल में छुट्टी कर दी गई है।

स्कूल के पीछे श्यामकुंज गली-2 में रहने वाले प्रद्युमन को उसके पिता वरुण ठाकुर शुक्रवार सुबह करीब 07.55 बजे स्कूल की गेट पर छोड़कर आए थे। इसके थोड़ी देर बाद करीब 08.10 बजे स्कूल के एक माली ने खून से लथपथ प्रद्युमन को टॉयलेट के बाहर गिरा देखा।

इसकी जानकारी जूनियर विंग की कॉर्डिनेटर को दी गई और पुलिस को इत्तेला किया गया। प्रद्युमन के पिता को बच्चे की तबीयत के खराब की सूचना दी गई और तत्काल बादशाहपुर के निजी अस्पताल में आने की बात कही गई।

बादशाहपुर के अस्पताल ने गहरे कट को देखते हुए बाहर से ही सेक्टर-51 के आर्टेमिस अस्पताल भेज दिया। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों के जांच के बाद प्रद्युमन को मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों का कहना है कि अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी।

ओरियंट कंपनी में बतौर क्वालिटी मैनेजर कार्यरत बच्चे के पिता वरुण ठाकुर का कहना है कि यह साफ तौर पर हत्या का मामला है। सूचना पाकर मौके पर डीसीपी क्राइम सुमित कुमार, डीसीपी साउथ अशोक बख्शी, नोडल अधिकारी व डीसीपी सिमरदीप सिंह समेत दो एसीपी ने मौका मुआयना किया।

फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम के साथ पुलिस की एक टीम ने मामले की जांच की। मौका-ए-वारदात से पुलिस को एक खून से सना हुआ चाकू बरामद हुआ है। फॉरेंसिक टीम ने मौके से ब्लड सैंपल और फिंगर प्रिंट इकट्ठे किए हैं।

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों को सौंप दिया है। सैंकड़ों बच्चों के परिजन और स्थानीय लोग स्कूल के बाहर इकट्ठे होकर स्कूल प्रबंधन के लिए खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

गुरुग्राम पुलिस के सीनियर अधिकारियों ने दखल देकर उन्हें शांत करवाया, लेकिन शांत होने के बजाय अभिभावकों ने हंगामा कर दिया। स्कूल में जमकर तोड़फोड़ की। तत्काल पुलिस ने क्विक रिस्पांस टीम ने मोर्चा संभाला। हंगामा करते हुए चार अभिभावकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। मामला बिगड़ता देख पुलिस ने कैंपस में इकट्ठा सभी अभिभावकों को खदेड़ दिया। पुलिस की टीम स्कूल परिसर में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है।
स्कूल से कर्मचारी और बच्चे के सहपाठियों से पूछताछ हो रही है।