राजस्थान बस हादसे में 33 की मौत, नाबालिग कंडक्टर चला रहा था बस

33
SHARE

आज सुबह राजस्थान के सवाई माधोपुर के नजदीक बनास नदी में डूबी बस के कारण अभी तक 33 लोगों की मौत हो चुकी है। कई लोग गंभीर रुप से घायल है। एक निजी कंपनी की यात्रियों से भरी बस बनास पुल की रेलिंग तोड़ते हुए नदी में जा गिरी। सुबह सात बजे हुए इस दर्दनाक हादसे में गंभीर घायल लोगों ने बताया ​कि बस नाबालिग कंडक्टर चला रहा था।

जानकारी के अनुसार ड्राइवर बस में मौजूद जरुर था लेकिन वह नाबलिग को बस चलाना सिखा रहा था। इस दौरान जब बनास पुल से बस निकली तब ओवरस्पीड और गलत तरीके से ओवरटेक करने के​ कारण बस नदी में जा गिरी। वहीं बताया जा रहा है कि हादसे में बस ड्राइवर की भी मौत हो गई। करीब चार ​घंटे चले बचाव अभियान में 25 से ज्यादा शव बनास नदी से निकाले गए है।

जबकि अन्य लोगों की मौत अस्पताल में ईलाज के दौरान हुई है। वहीं अभी भी एसडीआरएफ की टीमें बनास नदी में डूबे लोगों की तलाश कर रही है। हालांकि अभी तक यह भी स्पष्ट नहीं है कि बस में कुल कितने लोग सवार थे। लेकिन इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि मरने वालों में दस लोग सवाई माधोपुर के ज​बकि पांच लोग उत्तर प्रदेश के व सात लोग मध्य प्रदेश के निवासी थे।

जबकि अन्य लोगों की पहचान अभी तक नहीं हो सकी है। इनमें से दस शवों को परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया है। वहीं हादसे पर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने भी दुख जताया है। वहीं मुख्यमंत्री के निर्देश पर सरकार के कई मंत्री सवाई माधोपुर पहुंच गए है।

इसके अतिरिकत प्रदेश के बड़े प्रशासनिक अधिकारियों को भी मौके पर भेजा जा रहा है। इसके अतिरिक्त कई नेता जिनमें टोंक-सवाई माधोपुर सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया, सवाई माधोपुर विधायक दीया कुमारी, लालसोट विधायक ​किरोड़ी लाल मीणा सहित अन्य नेताओं के पहुंचने की संभावना है।