2000 का नोट 5 साल में बंद हो जाएगा: एस गुरुमूर्ति

14
SHARE
इकोनॉमिस्ट एस गुरुमूर्ति ने कहा है कि पांच साल में 2000 रुपए का नोट बंद हो जाएगा। नोटबंदी से होने वाली कैश की कमी से निपटने के लिए बड़े नोट छापे गए। आगे 500 का नोट ही सबसे बड़ी करंसी होगी।गुरुमूर्ति ने नोटबंदी के फैसले को ‘वित्तीय पोकरण’ बताया। पोकरण परमाणु टेस्ट की तरह इस फैसले के आगे ऐसे रिजल्ट मिलेंगे जो आपने सोचा भी नहीं|
गुरुमूर्ति ने सोमवार को कहा- रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन के बदलने के दो महीने बाद नोटबंदी की प्लानिंग बनी थी।सीक्रेसी रखते हुए बहुत कम वक्त में इसे लागू किया गया। ऐसे में कुछ कमियां स्वाभाविक हैं। इतने कम समय में 500 और 1000 रुपए के नोट छापना मुश्किल था। लेकिन 2000 का नोट तो चलन से बाहर करना ही होगा।जब लोगों के पास ज्यादा पैसा होता है तो वह अनावश्यक रूप से खर्च करते हैं। यूपीए सरकार के काम को ठीक करने की कोशिश है|
कालाबाजारियों को नए नोट सप्लाई कर रहे बैंकों की चेन तोड़ने के लिए सरकार सख्त हो गई है। एवरेज कारोबार के 20% से ज्यादा लेन-देन वाली सभी बैंक ब्रांचों का रिकॉर्ड जांचा जाएगा।”सूत्रों ने बताया है कि सरकार सभी हाई-ट्रांजैक्शन वाली ब्रांचों की लिस्ट बना चुकी है। पहले उन ब्रांचों की जांच होगी, जहां 60%से अधिक लेन-देन बढ़ा है। फिर 50% और 40% बढ़ोत्तरी वाली ब्रांचों की जांच होगी। बैंकों को भी फ्लाइंग स्क्वाड बनाने के निर्देश दिए हैं, जो संदिग्ध ब्रांचों की सीसीटीवी फुटेज जांचेंगे|
 ब्रॉडबैंड को गांव-गांव तक पहुंचाने में सरकारी एजेंसियों के साथ निजी को भी जोड़ा जाए। ब्रॉडबैंड को केबल नेटवर्क के जरिए पहुंचाने की इजाजत दी जाए। इससे 50 करोड़ लोग जुड़ेंगे। कंपनियों में फ्री वाई-फाई का सिस्टम हो। कॉमन पेमेंट सिस्टम में रजिस्टर ग्राहक इसे इस्तेमाल कर पाएं। अंतरिक्ष से बैंडविड्थ लेने के लिए मध्यस्थ कंपनी न हो। कंपनियां जिससे चाहें बैंथविड्थ खरीद पाएं। मोबाइल चोरी, गुम होने की स्थिति में उसका प्रयोग कोई दूसरा व्यक्ति न कर पाए। इसका कोई तरीका अपनाया जाए|