वैज्ञानिकों ने 600 साल पुराने मर्डर मिस्ट्री को सुलझाया!

5
SHARE

ऑस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों ने एक आदिवासी व्यक्ति की हत्या के 600 वर्ष पुराने रहस्य को सुलझाने का दावा किया है। उन्होंने संकेत दिया है कि व्यक्ति को धारदार हथियारों से मारा गया था।

करीब 1.7 मीटर लंबे और 25 से 30 वर्ष के बीच की आयु के आदिवासी व्यक्ति ‘काकुत्जा’ का अवशेष ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स के डार्लिंग नदी के तट पर संरक्षित पाया गया था। ग्रिफिथ विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं ने व्यक्ति की मौत के कारण का पता लगाने के लिए अनुसंधान किया।

विश्वविद्यालय के सीनियर रिसर्च फैलो माइकल वेस्टावे ने बताया कि जांच में यह बात निकलकर सामने आयी कि उस समुदाय के लोग घातक बाण या क्लबों का प्रयोग करते थे, धारदार धातु जैसा हथियार ही इतना नुकसान पहुंचा सकता है। अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि काकुत्जा को मारने के लिए संभव है ‘लील-लील’ नामक लकड़ी के हथियार का प्रयोग किया गया हो।

LEAVE A REPLY