पीएम मोदी ने वाराणसी में किया नामांकन, इतनी है संपत्ति

10
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। पीएम मोदी ने इस बार रोड शो के जरिए अपना शक्ति प्रदर्शन एक दिन पहले किया और शुक्रवार को नामांकन के दौरान एनडीए की शक्ति दिखाने की कोशिश की। उनके नामांकन में एनडीए के तमाम बड़े नेता मौजूद रहे। पीएम मोदी ने अकाली दल के वयोवृद्ध नेता प्रकाश सिंह बादल के पैर छुए। इसके बाद उन्होंने कचहरी में दाखिल होने के बाद उन्हें पर्चा थमाने वालीं बुजुर्ग महिला अन्नपूर्णा शुक्ला के पैर छूकर भी आशीर्वाद लिया।

पीएम मोदी के नामांकन में इस बार 4 नए प्रस्तावक बनाए गए। ये प्रस्तावक थे- डोमराज परिवार के जगदीश चौधरी, सामाजिक कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता, वनिता पॉलिटेक्निक की पूर्व प्रधानाचार्य अन्नपूर्णा शुक्ला और कृषि वैज्ञानिक राम शंकर पटेल।

प्रधानमंत्री ने चुनाव आयोग को दिए हलफनामे में अपनी संपत्ति 2.5 करोड़ रुपये की बताई है। पीएम की संपत्तियों में गुजरात के गांधीनगर का एक रिहायशी प्लॉट, 1.27 करोड़ रुपये के फिक्स्ड डिपॉजिट्स और 38,750 रुपये कैश शामिल हैं। आय के अपने स्रोतों में मोदी ने ‘सरकार से सैलरी’ और ‘बैंक से ब्याज’ का जिक्र किया है। प्रधानमंत्री ने घोषणा की है कि उनके खिलाफ न तो कोई आपराधिक मामला पेंडिंग है और न ही कोई सरकारी बकाया।

हलफनामे में पीएम मोदी ने जशोदाबेन को अपनी पत्नी बताया है। उनकी पत्नी की आय के स्रोत के स्थान पर ‘ज्ञात नहीं’ लिखा गया है। उनका पेशा या व्यवसाय भी ‘ज्ञात नहीं’ के तौर पर दर्ज किया गया है।

उन्होंने इस बात की घोषणा की है कि उन्होंने 1983 में गुजरात यूनिवर्सिटी से एमए की डिग्री हासिल की है। हलफनामे के मुताबिक उन्होंने 1967 में गुजरात बोर्ड से SSC परीक्षा पास की थी। वह दिल्ली विश्वविद्यालय से 1978 में आर्ट्स ग्रैजुएट हैं।