केशव बोले-अखिलेश यादव ने दिया था खाली खजाना फिर भी माफ किए किसानों के कर्ज

18
SHARE

आगामी लोकसभा चुनावों को देखते हुए बीजेपी आजकल प्रदेश में अलग-अलग जातियों की प्रतिनिधि सम्मेलनों का आयोजन कर रही है और इसी क्रम में आज लखनऊ में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने चौहान समाज के प्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित किया। इस सम्मेलन में डिप्टी सीएम ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधा और कहा कि पिछली सरकार ने विरासत में खाली खजाना दिया था, फिर भी भाजपा नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने किसानों के कर्ज माफ किए।

लखनऊ के विश्वेश्वरैया सभागार में चौहान समाज के लोगों को संबोधित करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि ‘पिछली सरकार जाति देखकर काम करती थी, लेकिन भाजपा सरकार को उत्तर प्रदेश की 22 करोड़ जनता की सुरक्षा की परवाह है। हम अपराधियों पर गोली चलाने से पुलिस को नहीं रोक सकते।‘

कांग्रेस, सपा और बसपा पर निशाना साधते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग भ्रष्टाचार में डूबे हुए हों, जिनकी सरकार में 12 लाख करोड़ के घोटाले हुए, जो बेल पर बाहर घूम रहे हैं ऐसे लोग पीएम मोदी पर उंगली उठाएंगे तो देश बर्दाश्त नहीं करेगा।

उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस के साथ-साथ सपा और बसपा को भी कहना चाहते हैं कि 2019 के चुनाव में जनता उन्हें सबक सिखा देगी। केशव मौर्य ने दावा किया कि भाजपा 2019 में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में 2014 से भी ज्यादा बहुमत हासिल करेगी।

उन्होंने कहा कि मोदी प्रधानमंत्री बने तभी 70 सालों बाद पिछड़ा वर्ग आयोग को ताकत मिली। अगर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केंद्र की मोदी सरकार की मदद से गरीबों को घर देना शुरू किया होता तो अब तक हर आदमी के पास अपना घर होता। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार ने सौभाग्य योजना नहीं शुरू होने दी थी। उत्तर प्रदेश में पिछड़ा वर्ग साथ दे तो लोकसभा चुनाव में भाजपा 73 सीटों से भी ज्यादा सीटें हासिल करेगी।