केशव प्रसाद मौर्य ने कहा लूट-भ्रष्टाचार के ठेकेदार हैं इन पार्टियों के नेता

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव देख कर अखिलेश और राहुल को भगवान याद आ रहे

13
SHARE

आगामी लोकसभा चुनावों में पार्टी के और बेहतर प्रदर्शन को पक्का करने के लिए भाजपा आजकल उत्तर प्रदेश में पिछड़ा वर्ग प्रतिनिधि सम्मेलन कर रही है और इसी सिलसिले में लखनऊ के विश्वेश्वरैया हॉल में स्वर्णकार समाज की सामाजिक प्रतिनिधि बैठक हुई। इस बैठक में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय समेत कई नेताओं ने हिस्सा लिया और इस दौरान सपा, बसपा और कांग्रेस पर जम कर निशाना साधा।


उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस के पास गलत काम करने से लेकर लूट, भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग का ठेका है। सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकार नोट इकट्ठा करने का काम बहुत अच्छे तरीके से करती है। उन्हंने कहा कि केंद्र में नरेंद्र मोदी और यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार होने से जनकल्याण की योजनाएं पूरी हो रही हैं और जनता को उसका फायदा मिल रहा है, इससे जनता में भाजपा के पक्ष में बने माहौल से विपक्षी दल घबरा गए हैं कि अब उन्हें कभी सत्ता में आने का मौका मिलेगा या नहीं।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि चुनाव को देख अखिलेश यादव और कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को भगवान याद आ रहे हैं। राहुल गांधी मानसरोवर हो आए वहीं अखिलेश यादव भगवान विष्णु का मंदिर बनाने की बात कर रहे हैं। उन्होंने सवाल किया कि क्या राहुल गांधी हनुमान चालीसा सुना सकते हैं, हमारे यहां का तो बच्चा-बच्चा सुना सकता है। उन्होंने सपा को निशाने पर लेते हुए सवाल किया कि रामभक्तों पर गोलियां किसने चलवाईं, क्या यह बताएंगे।


इस कार्यक्रम में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय ने गठबंधन की कोशिशों पर विपक्ष को घेरा और कहा कि केंद्र में मोदी सरकार की वापसी को रोकने के लिए कांग्रेस उत्तर प्रदेश में आत्महत्या पर उतारू है। वह सपा-बसपा के सहारे केंद्र में सरकार बनाने का सपना संजोए है, वहीं मायावती गेस्ट हाउस कांड भूल चुकी हैं और उसी पार्टी के साथ गठबंधन करने में परहेज नहीं है। उन्होंने कहा कि विकास, सुशासन, गरीबों की कल्याणकारी योजनाएं जारी रखने के लिए 2019 में मोदी को फिर प्रधानमंत्री के पद पर बैठाना होगा।