ओम प्रकाश राजभर की चुनौती, कैबिनेट से बाहर निकाल कर दिखाएं!

10
SHARE

यूपी के कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर बुधवार को लखीमपुर-खीरी में जनसभा को संबोधित किया और एक बार फिर से पिछड़ों को मिल रहे आरक्षण में उपकोटा तय किए जाने मांग की और प्रदेश में बच्चों की शिक्षा के सवाल को उठाया।


लखीमपुर खीरा के पलिया में ओम प्रकाश राजभर ने भाजपा को अपनी चेतावनी की याद दिलाते हुए कहा कि जिस तरह से जरूरतमंद सवर्णों को 48 घंटे में आरक्षण दिया गया उसी तरह 24 फरवरी तक जरूरतमंद पिछड़ों को आरक्षण नहीं दिया गया तो वह भाजपा सरकार से अपना रास्ता अलग कर लेंगे। उन्होंने कहा कि वह पिछड़ों को आगे लाने की लड़ाई लड़ रहे हैं और मुख्यमंत्री तक से इस बात पर लड़ जाते हैं। उन्होंने पिछड़े वर्ग के लोगों को आबादी के अनुपात में 54 फीसदी आरक्षण देने की वकालत की और जोर दिया कि यदि इसके लिए संविधान में संशोधन करना पड़े तो किया जाय।
शिक्षा का मसला उठाते हुए राजभर ने कहा कि प्रदेश में बच्चों की शिक्षा के लिए अलग-अलग मापदंड है जिसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अब जरूरतमंदों के बच्चे क से कबूतर नहीं बल्कि कंप्यूटर पढ़ेंगे तभी सरकार ठीक से चल पाएगी।


राजभर ने अपनी मांगों का जिक्र करते हुए कहा कि वह मुख्यमंत्री योगी को चुनौती देते हैं कि उन्हें कैबिनेट से बाहर निकालकर दिखाएं, वह गरीबों के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। बताते चलें कि राजभर पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वह प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अपनी पार्टी के उम्मीदवार उतारेंगे।